Create
Notifications

ग्‍लेन मैक्‍ग्रा ने अपने दोनों शिष्‍यों को टीम इंडिया के लिए डेब्‍यू करने पर दी शुभकामनाएं

ग्‍लेन मैक्‍ग्रा
ग्‍लेन मैक्‍ग्रा
Vivek Goel
visit

ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व महान तेज गेंदबाज ग्‍लेन मैक्‍ग्रा ने हाल ही में संपन्‍न श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम की तरफ से चेतन सकारिया और संदीप वॉरियर को अंतरराष्‍ट्रीय डेब्‍यू की शुभकामनाएं दी हैं। चेन्‍नई में एमआरएफ पेस फाउंडेशन में चेतन सकारिया और संदीप वॉरियर दोनों ने मैक्‍ग्रा के मार्गदर्शन में ट्रेनिंग ली है।

चेतन सकारिया ने श्रीलंका के खिलाफ एक वनडे मैच खेला और 34 रन देकर दो विकेट लिए। इसके अलावा वह दो टी20 इंटरनेशनल मैचों में खेलते हुए नजर आए और एक विकेट ले सके।

वहीं संदीप वॉरियर को सीरीज के आखिरी टी20 इंटरनेशनल मैच में डेब्‍यू का मौका मिला। 30 साल के वॉरियर को नवदीप सैनी की जगह टीम में शामिल किया गया था। मध्‍यम तेज गेंदबाज ने तीन ओवर में 23 रन दिए, लेकिन कोई विकेट नहीं ले सके।

ग्‍लेन मैक्‍ग्रा ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर चेतन सकारिया और संदीप वॉरियर दोनों को शुभकामनाएं दी। उन्‍होंने ट्वीट किया, 'चेतन सकारिया और संदीप वॉरियर को भारतीय टीम के लिए डेब्‍यू करने पर बड़ी शुभकामनाएं। आप दोनों पर बहुत गर्व है।'

मैक्‍ग्रा को 2012 में एमआरएफ पेस फाउंडेशन के निदेशक के रूप में नियुक्‍त किया गया था। इससे पहले 1987 से डेनिस लिली ने इसके निदेशक पद की जिम्‍मेदारी ली थी।

सकारिया और वॉरियर दोनों ने मैक्‍ग्रा को अपनी सफलता का श्रेय दिया

चेतन सकारिया और संदीप वॉरियर दोनों ने स्‍वीकार किया कि ग्‍लेन मैक्‍ग्रा और एमआरएफ पेस फाउंडेशन ने उन्‍हें तेज गेंदबाज के रूप में बढ़ने में बड़ी भूमिका निभाई।

कूच बिहार ट्रॉफी में सौराष्‍ट्र अंडर-19 टीम के प्रभावी प्रदर्शन करने के बाद चेतन सकारिया को सौराष्‍ट्र क्रिकेट एसोसिएशन ने फाउंडेशन में भेजा था। महान मैक्‍ग्रा से बातचीत के बारे में ईएसपीएन क्रिकइंफो से सकारिया ने बताया, 'मैंने ट्रायल्‍स दिए और अपनी गति व स्विंग से मैक्‍ग्रा सर को प्रभावित किया।'

सकारिया ने आगे कहा, 'मैक्‍ग्रा सर ने मुझे कहा कि अगर मैं अपने एक्‍शन और फिटनेस पर काम करूंगा तो अपनी गति 5 केपीएच तक बढ़ा सकता हूं। उन्‍होंने कहा कि अगर मैंने ऐसा किया तो कम से कम रणजी ट्रॉफी स्‍तर तक खेल सकूंगा।'

संदीप वॉरियर ने भी मूल्‍यवान टिप्‍स मिलने के लिए मैक्‍ग्रा की जमकर तारीफ की थी। संदीप वॉरियर के हवाले से द न्‍यू इंडियन एक्‍सप्रेस ने पिछले साल कहा था, 'मैक्‍ग्रा की टिप्‍स हमेशा मूल्‍यवान होती है। उन्‍होंने मुझे निरंतरता का महत्‍व बताया था और समझाया कि दिमाग स्‍पष्‍ट रखना कितना जरूरी है। जब से मैंने इस बात का पालन करना शुरू किया, मेरे खेल में सुधार हुआ।'

जहां सकारिया ने अब तक 15 फर्स्‍ट क्‍लास गेम और 8 लिस्‍ट ए मैच खेले, वहीं संदीप वॉरियर के पास 57 फर्स्‍ट क्‍लास मैच और 55 लिस्‍ट ए मैचों का अनुभव है।


Edited by Vivek Goel
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now