Create

'अगर ये युवा टीम श्रीलंका में सीरीज जीतेगी तो कोई हैरानी नहीं'

सूर्यकुमार यादव
सूर्यकुमार यादव
reaction-emoji
Vivek Goel

भारत के पूर्व प्रमुख चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा कि अगर भारतीय टीम आगामी श्रीलंका दौरे पर सीमित ओवर सीरीज में जीत दर्ज करेगी तो उन्‍हें कोई हैरानी नहीं होगी। प्रसाद का मानना है कि सफेद गेंद विशेषज्ञ वाली युवा टीम में सूर्यकुमार यादव और इशान किशन जैसे खिलाड़ी शामिल हैं, जिनमें जरूरत वाली शैली है, जो मजबूत श्रीलंका टीम को मात दे सकती है।

एमएसके प्रसाद ने स्‍पोर्ट्स्‍टार को दिए इंटरव्‍यू में अपने विचार प्रकट किए। प्रसाद ने इंग्‍लैंड के खिलाफ डेब्‍यू करने वाले सूर्यकुमार यादव और इशान किशन की शानदार पारियों के बारे में भी बात की और कहा कि भारतीय क्रिकेटरों की नई पंक्ति सशक्‍त है और वह मौके को दोनों हाथों से भुनाने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं।

एमएसके प्रसाद ने कहा, 'शैली का स्‍तर समान है, जो हमारे समय में था। मगर आज के लड़कों के विश्‍वास का स्‍तर हमारे जमाने वालों से पांच गुना ज्‍यादा है। साधारण उदाहरण: पहली गेंद सूर्यकुमार यादव को टी20 इंटरनेशनल मैच खेलने का मौका मिला, विश्‍व के सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाजों में से की गेंद पर छक्‍का जमा दिया। या फिर इशान किशन, डेब्‍यू में जिस तरह विरोधी टीम को धोया। अगर यह युवा भारतीय टीम श्रीलंका में सीरीज जीतती है तो मुझे कोई हैरानी नहीं होगी।'

46 साल के एमएसके प्रसाद ने श्रीलंका के खिलाफ सीरीज के लिए यादव को चुना, जिन पर सभी को निगाहें रहेंगी। उन्‍होंने साथ ही कहा कि तेज गेंदबाज आवेश खान श्रीलंका और इंग्‍लैंड दोनों ही जगह मैच खेलने का मौका गंवा सकते हैं क्‍योंकि उनका चयन रिजर्व गेंदबाज के रूप में हुआ है।

प्रसाद ने कहा, 'सूर्यकुमार यादव वह शख्‍स हैं, जिन पर सभी की निगाहें होनी चाहिए। इशान और संजू के पास शानदार मौका होगा। मैं आवेश खान को भी देखना पसंद करता क्‍योंकि आईपीएल में उन्‍होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया और दुर्भाग्‍यवश दोनों ही सीरीज में उन्‍हें नहीं खेलते हुए देखना थोड़ा निराश करेगा।'

भारतीय टीम श्रीलंका दौरे पर तीन वनडे और इतने ही टी20 इंटरनेशनल मैचों की सीरीज खेलेगी। इस दौरे की शुरूआत 13 जुलाई को होगी।

भारत ए में चुना जाना भी बड़ी बात: प्रसाद

एमएसके प्रसाद ने बताया कि कैसे उन्‍होंने भारत की बेंच स्‍ट्रेंथ मजबूत की। उन्‍होंने कहा, 'भारत में क्रिकेटर्स देखते हुए हमें एहसास हुआ कि खिलाड़‍ियों को अलग प्रारूप के लिए तैयार किया जाए। हमने मौजूदा टीम के लिए पर्याप्‍त बेंच स्‍ट्रेंथ तैयार करने की योजना बनाई। घरेलू क्रिकेट से करीब 60 खिलाड़‍ियों को हमने उनके प्रदर्शन के आधार पर दो सीजन के लिए चुना।'

उन्‍होंने साथ ही कहा कि भारत ए टीम में आना भी बड़ी उपलब्धि है। प्रसाद ने कहा, 'हमने इसे आगे फिल्‍टर करके 25 खिलाड़‍ियों का समूह बनाया और भारत ए के साथ खेलने भेजा। विकेटकीपर के रूप में हमारे पास ऋषभ पंत, इशान किशन, केएस भरत और संजू सैमसन थे। फिल्‍टर किए खिलाड़‍ियों को लगातार खेलने के मौके मिले। इससे भारत ए में चुना जाना भी बड़ी बात हुई।'


Edited by Vivek Goel
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...