एशेज में इंग्लैंड की हार पर पॉल कॉलिंगवुड ने कहा, "खिलाड़ियों को मेडल मिलने चाहिए"

पॉल कॉलिंगवुड इंग्लैंड टीम के साथ सपोर्ट स्टाफ के रूप में भी रह चुके हैं
पॉल कॉलिंगवुड इंग्लैंड टीम के साथ सपोर्ट स्टाफ के रूप में भी रह चुके हैं

इंग्लैंड क्रिकेट टीम को एशेज सीरीज (Ashes Series) में ऑस्ट्रेलिया के हाथों करारी हार मिली। मेजबान ऑस्ट्रेलिया (Aus vs Eng) ने 5 मैच की टेस्ट सीरीज को 4-0 से अपने नाम किया। ड्रॉ रहे मैच में भी इंग्लैंड के निचले क्रम के बल्लेबाजों ने बचा लिया। एक-दो मौकों को छोड़ दें तो इंग्लैंड के बल्लेबाज और गेंदबाज दोनों पूरी तरह से फेल रहे। जिसकी वजह से टीम की लगातार आलोचना हो रही है, लेकिन पूर्व कप्तान पॉल कॉलिंगवुड (Paul Collingwood) ने खिलाड़ियों के बचाव किया है। उन्होंने माना कि इंग्लैंड ने टॉस जीतने के बाद फैसले लेने और टीम चयन में गलतियां की हैं लेकिन बायो-बबल में रहकर 5 टेस्ट खेलने के लिए उन्होंने खिलाड़ियों को मेडल देने की बात भी कही।

ईसपीएन क्रिकइंफो के अनुसार कॉलिंगवुड ने कहा,

हां, हमने गलतियां की हैं। हमने चयन में गलतियां कीं, हमने टॉस की गलतियां की, लेकिन हम पांच मैचों की एशेज सीरीज खेलने के लिए सहमत हुए, इसके लिए खिलाड़ियों को मेडल दिए जाने चाहिए। यह बहुत बेहतर होता अगर हम दो मैच अभी खेलते और फिर तीन अगले साल करते। यह एक अच्छा समझौता होता।

कॉलिंगवुड के अनुसार ऑस्ट्रेलिया को इस बात की परवाह नहीं थी कि इंग्लैंड के खिलाड़ी मानसिक रूप से थके हैं। उन्होंने कहा

ऑस्ट्रेलिया को इस बात की परवाह नहीं थी कि वे इंग्लैंड की जिस टीम से खेलने जा रहे थे वो मानसिक रूप से थकी हुई थी। उन्हें सिर्फ एशेज चाहिए थी। हमारे खिलाड़ियों को मेडल मिलने चाहिए, आलोचना के नहीं। उन्हें सिर्फ जाने के लिए भी शाबाशी मिलनी चाहिए।

कॉलिंगवुड ने फुटबॉल टीम का उदाहरण दिया

कॉलिंगवुड ने फुटबॉल टीम का उदाहरण देते हुए इसे समझाया। उन्होंने कहा कि ये उसी तरह है कि इंग्लैंड फुटबॉल टीम को बबल से विश्व कप और यूरो में खेलने के लिए जाने को कहा जाए। क्या ऐसे में आप प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे। कॉलिंगवुड ने इसे हास्यास्पद बताया।

Quick Links

App download animated image Get the free App now