Create

"सौरव गांगुली ने केकेआर के मुख्य कोच से कहा कि मैं हमेशा से अनफिट रहा हूं", शोएब अख्तर ने सुनाया एक पुराना किस्सा 

शोएब अख्तर ने शानदार आईपीएल डेब्यू किया था
शोएब अख्तर ने शानदार आईपीएल डेब्यू किया था

पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) आईपीएल 2022 (IPL 2022) के दौरान स्पोर्ट्सकीड़ा के टाइम आउट सेगमेंट में कई मजेदार खुलासे किये हैं। इस दौरान उन्होंने एक किस्सा साल 2008 में आईपीएल डेब्यू का भी साझा किया। उन्होंने खुलासा किया कि कैसे सौरव गांगुली उनके बचाव में आए थे जब कोलकाता नाइट राइडर्स के मुख्य कोच जॉन बुकानन ने उनकी मैच फिटनेस के बारे में चिंता व्यक्त की थी।

अख्तर ने यह भी बताया कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के द्वारा लगाए गए बैन की वजह से कैसे उन्हें कुछ मैच मिस करने पड़े थे। हालांकि बाद में उन्हें इजाजत मिल गयी थी और इस तरह आईपीएल 2008 के 35वें मैच में उन्होंने दिल्ली डेयरडेविल्स (अब दिल्ली कैपिटल्स) के खिलाफ एक यादगार डेब्यू किया था।

अख्तर ने बताया कि तत्कालीन केकेआर के हेड कोच जॉन बुकानन ने कप्तान सौरव गांगुली से उनकी मैच फिटनेस को खराब बताया था और उन्हें प्लेइंग XI में शामिल करने के लिए योग्य नहीं बताया था। पाकिस्तानी गेंदबाज ने दावा किया कि गांगुली ने कोच को यह कहकर उनका समर्थन किया कि वह हमेशा अनफिट रहे हैं लेकिन फिर भी उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है।

शोएब अख्तर ने घटना को याद करते हुए कहा,

जब मैं केकेआर खेमे में शामिल हुआ और मैच नहीं खेला था, तब मैं प्रतिबंध झेल रहा था। जॉन बुकानन ने सौरव गांगुली से कहा कि उन्हें नहीं लगता कि मैं पर्याप्त फिट हूं। जिस पर गांगुली ने जवाब दिया कि वह हमेशा अनफिट रहे हैं। चिंता न करें। उसके बारे में। यह ठीक रहेगा, भले ही वह आधा अनफिट हो।
youtube-cover

आपको बता दें कि अपने आईपीएल करियर में 3 मैच खेलने वाले शोएब अख्तर ने दिल्ली के खिलाफ डेब्यू करते हुए 4 विकेट चटकाए थे। इस दौरान उन्होंने गौतम गंभीर, वीरेंदर सहवाग, एबी डीविलियर्स जैसे दिग्गजों को पवेलियन की राह दिखाई थी। अख्तर ने मैच में महज 11 रन खर्च करते हुए 4 विकेट झटके थे। उनके शानदार गेंदबजी प्रदर्शन की वजह से केकेआर ने 134 रन के लक्ष्य का सफलतापूर्वक बचाव कर लिया था और अख्तर को प्लेयर ऑफ़ द मैच चुना गया था।

पाकिस्तानी दिग्गज ने 3 आईपीएल मैचों में कुल 5 विकेट चटकाए हैं। 2008 के सीजन के बाद उन्हें दोबारा लीग में खेलने का मौका नहीं मिला।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment