Create

श्रीलंकाई टीम में हुआ विवाद, दूसरे T20I में जानबूझकर इस खिलाड़ी को नहीं खिलाया : रिपोर्ट्स

सदीरा समरविक्रमा और रमेश मेंडिस
सदीरा समरविक्रमा और रमेश मेंडिस

श्रीलंकाई टीम में एक नया विवाद खड़ा हो गया है। श्रीलंकाई खिलाड़ी-मैनेजर गलत कारणों से एक बार फिर सुर्खिंयों में हैं। श्रीलंकाई टीम को कोलंबो के आर प्रेमदासा स्‍टेडियम में भारत के खिलाफ दूसरे टी20 इंटरनेशनल मैच में जानबूझकर अपनी प्‍लेइंग XI में एक बदलाव करना पड़ा है।

श्रीलंकाई क्रिकेट में एक शीर्ष खिलाड़ी-मैनेजर ने सुर्खिंया बटोरी थी कि उसने कथित तौर पर पिछले साल लंका प्रीमियर लीग (एलपीएल) में अपने कई क्‍लाइंट्स से 10 प्रतिशत कमीशन लिया था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, खिलाड़ी-मैनेजर श्रीलंकाई टीम प्रबंधन के सीनियर सदस्‍यों के संपर्क में भी था, जो अपने क्‍लाइंट्स के मामले बनाने की कोशिश करता था। और तो और, उसका हाथ श्रीलंका टीम प्‍लेइंग XI में किए दो बदलावों में से एक पर था।

मॉर्निंग स्‍पोर्ट्स को सूत्रों ने बताया, 'यह एक पूरी तरह से उपद्रव बन गया है। हम भारत के खिलाफ दूसरे टी20 इंटरनेशनल मैच में एक प्रतिभाशाली ऑलराउंडर को बाहर बैठाने के लिए मजबूर हुए क्‍योंकि उनके मैनेजर का प्रभाव जोरदार रहा। हम उसे असल में खिलाना चाहते थे, लेकिन हमने उसके प्रबंधक के प्रभाव के लिए इसके खिलाफ फैसला किया।'

श्रीलंका ने टीम में दो बदलाव किए थे, जिसके बाद पहले मैच में उन्‍हें 38 रन की शिकस्‍त मिली थी। आशेन बंडारा ने डेब्‍यूटेंट रमेश मेंडिस और सदीरा समरविक्रमा ने फॉर्म में चल रहे चरित असलंका की जगह ली थी। अब आंकड़ों को देख लेते हैं।

असलंका, जिन्‍हें चोटिल समझा गया उनके घरेलू क्रिकेट में बंडारा की तुलना में गेंदबाजी आंकड़ें बेहतर हैं।

श्रीलंका में लोग इस चल रहे पक्षपात के बारे में जानते हैं, और वे खिलाड़ी-प्रबंधन को सरकार या श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) के दायरे में भेजने का आह्वान करते रहे हैं।

श्रीलंका ने भारत के खिलाफ सीरीज बराबर की

पहले बल्‍लेबाजी का आमंत्रण स्‍वीकार करने वाली भारतीय टीम को शिखर धवन (40) और रुतुराज गायकवाड़ (21) ने धीमी शुरूआत दिलाई। भारतीय टीम ने पावरप्‍ले में विकेट नहीं गंवाया और पहले विकेट के लिए 49 रन जोड़े। मगर जैसे गेंद पुरानी होती गई और पिच धीमी हुई, रन बनाना मुश्किल होता गया।

भारतीय टीम एक कम बल्‍लेबाज के साथ खेल रही थी। श्रीलंका ने ऐसे में भारत को 132/5 के स्‍कोर पर रोक दिया। मगर यह मुकाबला सांस थाम देने वाला रहा क्‍योंकि लक्ष्‍य का पीछा करते समय श्रीलंकाई टीम कभी सहज नजर नहीं आई।

भारतीय स्पिनरों ने नियमित अंतराल में विकेट लिए और श्रीलंका की सिरदर्दी बढ़ाए रखी। मगर धनंजय डी सिल्‍वा ने 34 गेंदों में नाबाद 40 रन बनाकर श्रीलंका को दो गेंद पहले चार विकेट की जीत दिलाई। इस तरह श्रीलंका ने सीरीज 1-1 से बराबर की।

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment