Create

हार्दिक पांड्या लेंगे संन्यास, इस फॉर्मेट को कह सकते हैं अलविदा!

Rahul
हार्दिक पांड्या ने टेस्ट क्रिकेट में 11 मैचों में शिरकत की
हार्दिक पांड्या ने टेस्ट क्रिकेट में 11 मैचों में शिरकत की

टीम इंडिया (Team India) के लिए पिछले कई सालों से ऑलराउंडर की भूमिका निभा रहे हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) पिछले 1 साल से अपनी फिटनेस को लेकर जूझ रहें हैं। इस दौरान उन्होंने कई अहम सीरीज और आईपीएल (IPL 2021) में गेंदबाजी नहीं की, जिसके कारण उन्हें टीम से भी निकाल दिया गया। टीम इंडिया एक तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर की तलाश में हैं। हार्दिक के आने से उनकी यह तलाश पूरी होती हुई दिखाई दी थी लेकिन साल 2018 में चोटिल हुए हार्दिक अभी तक अपने आप को अच्छे से फिट नहीं कर पाए। पहले टेस्ट क्रिकेट और अब लिमिटेड ओवर्स की टीम में भी हार्दिक की जगह नहीं बन पा रही है।

इनसाइडस्पोर्ट्स की खबर के अनुसार हार्दिक पांड्या क्रिकेट के सबसे लम्बे फॉर्मेट टेस्ट से दूरी बना सकते हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार भारतीय क्रिकेट बोर्ड के एक उच्च अधिकारी ने यह सूचना दी है कि हार्दिक पांड्या टेस्ट फॉर्मेट से संन्यास लेने पर विचार कर रहें हैं। क्योंकि वह अपना पूरा फोकस अब एकदिवसीय और टी20 अंतरराष्ट्रीय प्रारूप पर देना चाहते हैं। आपको बता दें कि हार्दिक पांड्या ने टीम इंडिया के लिए आखिरी बार टेस्ट मैच इंग्लैंड के खिलाफ साल 2018 में खेला था। उन्होंने एक साल पहले श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था।

BCCI के एक अधिकारी ने इनसाइडस्पोर्ट्स से बातचीत करते हुए कहा कि, 'हार्दिक पांड्या कुछ समय से चोटों से काफी जूझ रहे हैं और हालांकि उन्होंने हमें आधिकारिक तौर पर इसकी जानकारी नहीं दी है। लेकिन वह टेस्ट से संन्यास लेने पर विचार कर रहे हैं। इससे उन्हें लिमिटेड क्रिकेट पर अपना ध्यान केंद्रित करने में बहुत मदद मिलेगी। वह वैसे भी टेस्ट क्रिकेट के लिए हमारी योजना में नहीं थे। यह निश्चित रूप से टीम इंडिया के लिए एक बड़ा नुकसान होगा लेकिन हमें बैकअप तैयार करना होगा।'

आपको बता दें कि हार्दिक पांड्या ने टेस्ट क्रिकेट में 11 मैचों में शिरकत की। बल्लेबाजी में उन्होंने एक शतक जड़ते हुए 532 रन बनाये हैं, तो गेंदबाजी में उन्होंने 17 विकेट प्राप्त किये।

Quick Links

Edited by Rahul
Be the first one to comment