ICC के नए रेवेन्यू डिस्ट्रीब्यूशन मॉडल के बाद BCCI बनेगा और भी अमीर, अहम जानकारी आई सामने

भारतीय मुद्रा में ये राशी 1887 करोड़ रुपये होगी
Photo Courtesy : BCCI

विश्व क्रिकेट का सबसे अमीर बोर्ड बीसीसीआई (BCCI) आने वाले समय में और भी अमिर होने वाला है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) अपनी आगामी बिजनेस साइकिल 2024 से 2027 तक के अपने नेट अतिरिक्त कमाई से नये रेवेन्यू डिस्ट्रीब्यूशन मॉडल का अनावरण करने की योजना बना रहा है, जिसमें बीसीसीआई (BCCI) को स्पष्ट रूप से इस आय का एक बड़ा हिस्सा मिलेगा। कुल आय का करीब 40 प्रतिशत हिस्से के आस-पास, भारतीय क्रिकेट बोर्ड को मिलेने का अनुमान है जो सालाना लगभग 230 मिलियन डॉलर के करीब होगा।

एक मूल हिसाब से अनुमानित है कि आईसीसी दुनिया के 5 अलग क्षेत्रों में मीडिया राइट्स को बेचने के निर्णय के बाद 600 मिलियन डॉलर की सालाना कमाई करेगी। एक रिपोर्ट के मुताबिक इस बिक्री से 3.2 बिलियन की कमाई हुई है जिसमें 3 बिलियन डॉलर अकेले डिज्नी ने भारत में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के प्रसारण अधिकारों के लिए दिया है।

बीसीसीआई के बाद इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड को होगा सबसे बड़ा मुनाफा

ईएसपीएन क्रिकइंफो के रिपोर्ट के मुताबिक इस प्रस्तावित मॉडल में भारत के बाद सबसे ज़्यादा कमाई करने वाला क्रिकेट बोर्ड ईसीबी होगा। आईसीसी की कुल कमाई का 6.89 फ़ीसदी का हिस्सा वे कमा सकता है जो कि 41.33 मिलियन डालर सालाना होगा। इसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रलिया को 6.25 फ़ीसदी का सालाना हिस्सा मिलेगा जो 37.5 मिलियन डालर के करीब होगा । वहीं के पाकिस्तान के पास आईसीसी के कुल आय का 5.75 फ़ीसदी हिस्सा जा सकता है जो सालाना 34.51 मिलियन डालर होगा।

वहीं बाकी देशों को इस नए मॉडल में ICC की आय का 5 फ़ीसदी से कम का हिस्सा मिलेगा। आईसीसी के 600 मिलियन डॉलर की इस कमाई में से 12 पूर्ण सदस्यों को 532.84 मिलियन डॉलर मिलेंगे जो कमाई का 88.81 फ़ीसदी हिस्सा होगा, जबकि एसोसिएट सदस्यों को केवल 67.16 मिलियन डॉलर ही मिलेंगे जो 11.19 फ़ीसदी है ।

बता दें कि ICC की इस आय वितरण प्राणली का मापदंड देशों के क्रिकेट इतिहास, पिछले 16 सालों में आईसीसी इवेंट में महिला और पुरुष क्रिकेट का प्रदर्शन, आईसीसी के वाणिज्यिक राजस्व में उनका योगदान, और पूर्ण सदस्य होने से जुड़े हैं।

Quick Links

Edited by Rahul