Create

"मुझे नहीं पता कि ये इंडियन टीम ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज की तरह डॉमिनेट कर सकती है या नहीं"

भारतीय क्रिकेट टीम ट्रॉफी के साथ
भारतीय क्रिकेट टीम ट्रॉफी के साथ
सावन गुप्ता

भारत के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि ये इंडियन टीम वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया की दिग्गज टीमों की तरह डॉमिनेट कर सकती है या नहीं इसको लेकर उन्हें थोड़ा शक है। उन्होंने इसके पीछे टीम के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी बताई है।

विराट कोहली 2015 में भारतीय टेस्ट टीम के फुल टाइम कप्तान बने थे। तब से लेकर अभी तक इंडियन टीम ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। उन्होंने दुनिया की टॉप टीमों को हराते हुए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाई।

ये भी पढ़ें: एम एस धोनी और फाफ डू प्लेसी के बीच काफी अच्छी बॉन्डिंग है, युवा प्लेयर का बड़ा बयान

भारतीय टीम को डॉमिनेट करने के लिए लगातार हर मैच में जीत हासिल करनी होगी - सुनील गावस्कर

गावस्कर के मुताबिक 70 और 80 के दशक की वेस्टइंडीज टीम लगातार हर मुकाबले में जीत हासिल करती थी। वहीं कंगारू टीम भी ऐसा ही करती थी। लेकिन इस इंडियन टीम में निरंतरता नहीं है। यू-ट्यूब पर द एनालिस्ट शो में उन्होंने कहा,

मुझे नहीं पता कि जैसा वेस्टइंडीज ने डॉमिनेट किया था वैसा ये इंडियन टीम कर पाएगी। वेस्टइंडीज सीरीज के पांचो मैच जीतती थी। यहां तक कि ऑस्ट्रेलियाई टीम भी पांच में से चार मुकाबले जीतती थी। मुझे नहीं पता कि ये इंडियन टीम वैसा कर सकती है या नहीं। इस टीम के पास काफी जबरदस्त टैलेंट है लेकिन कभी-कभी निरंतरता की कमी दिखती है। यही वजह है कि मैं पूरी तरह से सुनिश्चित नहीं हूं। लेकिन इस टीम के अगर पोटेंशियल की बात करें तो वो अनलिमिटेड है।

अगर विराट कोहली एक और टेस्ट मुकाबला जीत लेते हैं तो वो क्लाइव लॉयड से आगे निकल जाएंगे जिन्होंने अपनी कप्तानी में 36 टेस्ट मैच जीते थे। तब कोहली ग्रीम स्मिथ, रिकी पोंटिंग और स्टीव वॉ से ही पीछे रहेंगे।

ये भी पढ़ें: राशिद खान ने विराट कोहली, युवराज सिंह और एम एस धोनी के लिए एक शब्द में कही बड़ी बात


Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...