Create
Notifications

द्रविड़ और लक्ष्मण की वो साझेदारी जिसने निकाल दिया था कंगारू गेंदबाजों का दम और फॉलोऑन खेलने के बावजूद जीता था भारत

द्रविड़ और लक्ष्मण की इस साझेदारी को हमेशा रखा जाएगा याद (Photo Credit: BCCI)
द्रविड़ और लक्ष्मण की इस साझेदारी को हमेशा रखा जाएगा याद (Photo Credit: BCCI)
Neeraj
visit

भारतीय क्रिकेट टीम के दो दिग्गजों वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) और राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) के लिए आज का दिन यादगार है। आज ही के दिन द्रविड़ और लक्ष्मण में कोलकाता के ईडन गार्डन मैदान में ऐतिहासिक साझेदारी की थी। 2001 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए इस मैच में द्रविड़ और लक्ष्मण की दमदार बल्लेबाजी की बदौलत भारत ने फॉलोऑन खेलते हुए मैच में जीत दर्ज की थी। लक्ष्मण और द्रविड़ ने मैच के चौथे दिन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का दम निकाल दिया था।

ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 445 रन बनाए थे जिसके जवाब में भारत की पहली पारी 171 पर ही समाप्त हो गई थी। तीसरे दिन की शुरुआत में ऑल आउट होने के बाद भारत को फॉलोऑन खेलने के लिए उतरना पड़ा था। फॉलोऑन खेलते हुए भारत ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक 254/4 का स्कोर बनाया था। तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक लक्ष्मण 109 रन बनाकर नाबाद थे तो वहीं द्रविड़ ने नाबाद सात रनों की पारी खेली थी।

चौथे दिन लक्ष्मण और द्रविड़ ने शानदार बल्लेबाजी की और पूरे दिन तक ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को विकेट के लिए तरसा दिया था। दोनों के बीच पांचवें विकेट के लिए 376 रनों की साझेदारी हुई थी। चौथे दिन का खेल समाप्त होने तक लक्ष्मण 275 और द्रविड़ 155 रन बनाकर नाबाद थे। इन दोनों बल्लेबाजों ने कंगारू गेंदबाजों को विकेट के लिए तरसाने के अलावा भारत को 315 रनों की बढ़त भी दिला दी थी। पांचवें दिन लक्ष्मण 281 रन बनाने के बाद आउट हुए जो उनका टेस्ट क्रिकेट में सर्वोच्च स्कोर है। द्रविड़ भी 180 रन बनाने के बाद रन आउट हो गए थे और भारत ने अपनी पारी 657/7 के स्कोर पर घोषित की थी।

हरभजन ने दिलाई भारत को ऐतिहासिक जीत

आखिरी दिन भारत द्वारा मिले 384 रनों के लक्ष्य के जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने दूसरा सेशन समाप्त होने तक 161/3 का स्कोर बना लिया था। ऐसा रहा लग रहा था कि आखिरी सेशन में मेहमान टीम मैच ड्रॉ करा ले जाएगी, लेकिन हरभजन सिंह और सचिन तेंदुलकर के इरादे कुछ और ही थे। आखिरी सेशन में लगभग 28 ओवरों में हरभजन और सचिन तेंदुलकर ने मिलकर ऑस्ट्रेलिया के सात विकेट निपटा दिए और भारत को ऐतिहासिक जीत दिलाई। हरभजन ने ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में छह और सचिन ने तीन विकेट लिए थे।


Edited by Prashant Kumar

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
Article image

Go to article
App download animated image Get the free App now