Create

टी20 और टेस्ट क्रिकेट की एप्रोच में सबसे बड़ा अन्तर बताते हुए केकेआर के प्रमुख तेज गेंदबाज ने दिया बयान

पैट कमिंस तीनों ही प्रारूपों के बेहतरीन खिलाड़ी माने जाते हैं
पैट कमिंस तीनों ही प्रारूपों के बेहतरीन खिलाड़ी माने जाते हैं

क्रिकेट जगत में हमने कई ऐसे खिलाड़ी देखें हैं जो किसी एक प्रारूप में ही माहिर होते हैं लेकिन कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हुए हैं, जो टेस्ट से लेकर टी20 में अव्वल रहे हैं। इन्हीं में से एक नाम पैट कमिंस (Pat Cummins) का है। कमिंस ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम के कप्तान हैं और आईपीएल 2022 (IPL 2022) में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेल रहे हैं। इस दिग्गज तेज गेंदबाज ने टी20 और टेस्ट में गेंदबाजी करने के एप्रोच में एक बड़ा अंतर बताया है।

टी20 क्रिकेट में गेंदबाजों की भूमिका काफी बदल गई है और इस प्रारूप में उन्हें अपनी इकॉनमी का ध्यान रखना होता है, जबकि टेस्ट क्रिकेट में गेंदबाजों की प्राथमिकता विकेट चटकाने की होती है।

कमिंस के मुताबिक छोटे प्रारूप में प्रभाव डालना काफी महत्वपूर्ण है, जब फिटनेस और अन्य चीजें टेस्ट क्रिकेट के लिए अहम हैं। केकेआर की आधिकारिक वेबसाइट पर ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज ने कहा,

यह लाल गेंद वाले क्रिकेट के लिए एक पूरी तरह से अलग दृष्टिकोण है। यहां आपकी भूमिका आखिरी ओवर फेंकने की हो सकती है और यदि आप 10 या 12 रन देते हैं तो यह वास्तव में अच्छा परिणाम हो सकता है। आपका प्रभाव डालना अहम हैं, विकेट लेना नहीं। लाल गेंद में, आप विकेटों की तलाश करने की कोशिश करते हैं। यह फिटनेस के बारे में है, टेस्ट मैच के पांच दिनों से गुजरने के बारे में है। यहाँ बाउंड्री बचाने के बारे में है।

यह कई बार बल्लेबाजों के लिए काफी फायदेमंद होता है जो कि ठीक है - पैट कमिंस

टी20 क्रिकेट में काफी नियम और बाउंड्री की दूरी आदि बल्लेबाजों की तुलना में गेंदबाजों के हक़ में कम रहे हैं और इसी वजह से कई लोग इसे बल्लेबाजों का प्रारूप भी कहते हैं। हालांकि कमिंस को इस कोई ऐतराज नहीं है। उन्होंने कहा,

कुछ मैच ऐसे होंगे जहां आप अच्छी गेंदबाजी करेंगे लेकिन फिर भी आप को कुछ छक्के लग सकते हैं। टी20 क्रिकेट ऐसा है है। इसलिए काफी क्राउड आता है। इसीलिए बल्लेबाजी करते हुए मुझे बल्ला स्विंग करने की इजाजत है। यह कई बार बल्लेबाजों के पक्ष में होता है जो कि ठीक है। यह गेंदबाजी का एक अच्छा दिन बनाता है जहां आपको लगता है कि आपने जीत में और अधिक संतोषजनक योगदान दिया है।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment