Create
Notifications
Get the free App now
Favorites Edit
Advertisement

भारतीय अंडर-19 टीम ने रोमांचक टाई के साथ इंग्लैंड को वन-डे सीरीज में 3-1 से हराया

  • भारत की तरफ से आज एस राधाकृष्णन और मनजोत कालरा ने डेब्यू किया
ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 21:27 IST

भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम और इंग्लैंड अंडर-19 टीम के बीच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में हुई पांच मैचों की एकदिवसीय सीरीज का पांचवां व अंतिम मैच बुधवार को रोमांचक टाई के साथ समाप्त हुआ। इंग्लैंड अंडर-19 टीम ने पहले बल्लेबाजी की और निर्धारित 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 226 रन बनाए। जवाब में भारतीय टीम का आखिरी विकेट आखिरी गेंद पर गिरा और पूरी टीम 50 ओवर में 226 रन बनाकर ऑलआउट हो गई। बहरहाल, मेजबान टीम पहले ही सीरीज पर कब्ज़ा कर चुकी थी और यह अंतर कम नहीं हुआ। राहुल द्रविड़ की कोचिंग वाली भारत अंडर-19 टीम ने वन-डे सीरीज 3-1 से जीती। अब वह इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच खेलेगी। भारत की तरफ से आज एस राधाकृष्णन और मनजोत कालरा ने डेब्यू किया। यह भी पढ़ें : भारत अंडर 19 ने चौथे एकदिवसीय में विशाल स्कोर बनाकर इंग्लैंड अंडर 19 को बुरी तरह हराया भारतीय अंडर-19 टीम के कप्तान अभिषेक शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। इंग्लैंड के ओपनर हैरी ब्रूक (14) आउट होने वाले पहले बल्लेबाज रहे। उन्हें इशान पोरेल ने विकेटकीपर हेत पटेल के हाथों कैच आउट कराया। इसके बाद इंग्लैंड को नियमित अंतराल में झटके लगते रहे और एक समय वह 121 रन पर 5 विकेट गंवाकर संघर्ष कर रही थी। फिर विकेटकीपर बल्लेबाज ओली पोप (45) और विल जैक्स (28) ने सूझबूझ भरी पारियां खेलकर टीम को टीम को 200 रन के करीब पहुंचाया। निचलेक्रम में हेनरी ब्रूक्स (12) और आर्थर गोड्सल (19*) ने उपयोगी पारी खेलकर इंग्लैंड को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। भारत की तरफ से आयुष जमवाल ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए। इशान पोरेल ने दो जबकि हेरम्ब परब, यश ठाकुर और शिव सिंह ने एक-एक विकेट लिया। 227 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बेहद ख़राब रही। ओपनर प्रियम गर्ग (0) और कप्तान अभिषेक शर्मा (4) जल्दी-जल्दी पवेलियन लौटे। दोनों को ब्लेथरवीक ने अपना शिकार बनाया। स्कोर 50 तक पहुंचा था कि मनजोत कालरा (21) गोड्सल की गेंद पर बंटन को आसान कैच थमाकर आउट हुए। मयंक रावत (1) को गोड्सल ने अपना दूसरा शिकार बनाया। एस राधाकृष्णन (65) ने एक छोर संभाले रखा और हेत पटेल (23) व शिव सिंह (13) के साथ पांचवे और छठे विकेट के लिए क्रमशः 47 और 36 रन की साझेदारी की। हालांकि 93 गेंदों में 5 चौको की मदद से 65 रन बनाकर खेलने वाले राधाकृष्णन ने रॉलिंस की गेंद पर ब्रूक को कैच पकड़ाकर अपना विकेट गंवा दिया। भारतीय टीम 137 रन पर 7 विकेट गंवा चुकी थी और उस पर हार का खतरा मंडरा रहा था। मगर आयुष जमवाल (40) और यश ठाकुर (30) ने टीम की वापसी कराई और आठवें विकेट के लिए 65 रन की साझेदारी करके टीम को 200 के पार लगाया। अंतिम ओवरों में भारतीय टीम को संघर्ष का फायदा मिला और उसने इंग्लैंड के स्कोर की बराबरी कर ली। हालांकि उसके 9 विकेट गिर चुके थे। पारी की अंतिम गेंद पर इशान पोरेल (6) को पेटरसन-वाइट ने होल्डेन के हाथों कैच आउट कराकर मैच टाई करा दिया। इंग्लैंड की तरफ से हेनरी ब्रुक्स ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए। जैक ब्लेथरवीक, आर्थर गोड्सल और डेलरे रॉलिंस ने दो-दो विकेट लिए। लियाम पेटरसन वाइट को एक विकेट मिला।

Published 08 Feb 2017, 18:26 IST
Advertisement
Fetching more content...