Create

हार्दिक पांड्या और आशीष नेहरा के साथ काम करने के अपने अनुभव को साझा करते युवा स्पिनर ने दी बड़ी प्रतिक्रिया

आईपीएल 2022 में आर साई किशोर ने अपने प्रदर्शन से काफी प्रभावित किया
आईपीएल 2022 में आर साई किशोर ने अपने प्रदर्शन से काफी प्रभावित किया

आर साई किशोर (R Sai Kishore) ने आईपीएल 2022 (IPL 2022) में गुजरात टाइटंस (Gujarat Titans) के लिए दमदार प्रदर्शन किया और अपनी छाप छोड़ी। साई किशोर को पांच मैचों में मौका मिला और उन्होंने छह विकेट हासिल किये। साई किशोर ने बताया कि कप्‍तान हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) और कोच आशीष नेहरा (Ashish Nehra) के साथ उनका अनुभव कैसा रहा।

किशोर ने बताया कि हार्दिक पांड्या और आशीष नेहरा दोनों ही ईमानदार हैं। उन्‍होंने कहा कि पूरे टूर्नामेंट के दौरान कोच और कप्‍तान ने नियमित रूप से उनसे बातचीत की। इसके अलावा किशोर ने बताया कि दो महीने तक पूरी टीम ने शानदार प्रयास किया, जिससे संयोजन बेहतर रहा। किशोर ने बताया कि कैसे उनकी कमजोरी पहले से बहुत कम हुई।

गुजरात टाइटंस के स्पिनर ने स्‍पोर्ट्सकीड़ा से बातचीत करते हुए कहा, 'मुंबई में विकेट्स शानदार थे और एक अतिरिक्‍त स्पिनर को खिलाने का कोई फायदा नहीं था। मैं आईपीएल में नया हूं, लेकिन मेरे दो मैच खेलने के बाद उनका मुझ पर ज्‍यादा विश्‍वास रहा। आशीष नेहरा बहुत अलग व्‍यक्ति हैं। वो बेहद ईमानदार हैं।'

साई किशोर ने आगे कहा, 'हार्दिक पांड्या भी बेहद ईमानदार व्‍यक्ति हैं। मुझे उन दोनों ने साफ बता दिया था कि उनके दिमाग में क्‍या चल रहा है। जब आप नहीं खेल रहे होते हैं तो टीम के बारे में सोचना पड़ता है और यह अच्‍छी तरह हुआ। गुजरात ने जिन खिलाड़‍ियों पर भरोसा किया और चुना, उन्‍होंने दमदार प्रदर्शन करके दिया। इसलिए कमजोरी कम होती गईं।'

बाएं हाथ के स्पिनर ने कहा, 'हार्दिक पांड्या ने बहुत अच्‍छी तरह टीम का चयन किया था। जब आपके पास पांच नियमित गेंदबाज हो तो संयोजन शानदार होता है। आपको फिर केवल 160 या 170 रन बनाने होते हैं और आपको पता होता है कि गेंदबाज इसकी रक्षा कर लेंगे।'

किशोर ने कहा, 'मैं उन टीमों का बड़ा प्रशंसक हूं, जिनके पास पांच नियमित गेंदबाज हैं। यह रणनीति हमारे लिए कारगर साबित हुई। चार गेंदबाज 145 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद डालते थे जबकि पांचवें गेंदबाज राशिद खान थे। बल्‍लेबाज भी चली तो मामला सुलझा हुआ रहा।'

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment