Create

विराट कोहली मामले पर रवि शास्त्री ने तोड़ी चुप्पी, पहली बार दिया बयान

शास्त्री अब तक मामले पर चुप ही थे
शास्त्री अब तक मामले पर चुप ही थे

भारतीय टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने विराट कोहली (Virat Kohli) को वनडे प्रारूप की कप्तानी से हटाने को लेकर अंततः बयान दिया है। शास्त्री का कहना है कि स्थिति को बेहतर तरीके से हैंडल किया जा सकता था। रवि शास्त्री ने इंडियंस एक्सप्रेस को दिए एक इंटरव्यू में इस मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ी है।

शास्त्री ने कहा कि विराट ने कहानी का अपना पक्ष बताया है, बोर्ड अध्यक्ष को इस कहानी में अपना पक्ष बताने की जरूरत है। अच्छी बातचीत से स्थिति को और बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था। हालांकि रवि शास्त्री ने ज्यादा इस मामले पर कुछ नहीं कहा।

टी20 वर्ल्ड कप से पहले सबसे छोटे प्रारूप की कप्तानी छोड़ने का ऐलान करने वाले कोहली को बाद में चयन समिति ने वनडे की कप्तानी से भी हटा दिया। उनको हटाने के बाद बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा कि कोहली को टी20 कप्तानी नहीं छोड़ने के लिए कहा गया था लेकिन वह नहीं माने। चयनकर्ताओं को लगता है कि सफेद गेंद क्रिकेट में दो कप्तान नहीं होने चाहिए। दादा ने यह भी कहा कि मैंने व्यक्तिगत रूप से कोहली से बात की थी। इसके बाद कोहली ने मामले पर बयान देते हुए कहा कि उनसे किसी ने कुछ नहीं कहा।

टी20 में कप्तानी कोहली ने खुद छोड़ दी थी
टी20 में कप्तानी कोहली ने खुद छोड़ दी थी

इस मामले ने कोहली के बयान के बाद तूल पकड़ा और हर तरफ चर्चा का विषय बन गया। कोहली को लेकर ऐसी खबरें भी आई थी कि वह दक्षिण अफ्रीका दौरे पर वनडे सीरीज में नहीं खेलेंगे लेकिन उन्होंने साफ़ कर दिया कि वह खेलने के लिए उपलब्ध हैं और खेलेंगे।

बोर्ड की तरफ से मामले पर अब कोई बयान नहीं आया है। दादा ने कहा था कि बोर्ड मामले से डील कर लेगा, इसे ज्यादा लम्बा नहीं खींचना चाहिए। कोहली और गांगुली दोनों को ही कहीं न कहीं आलोचना का सामना करना पड़ा था।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment