Create
Notifications

रविचंद्रन अश्विन ने 114 साल पुराने ऐतिहासिक रिकॉर्ड की बराबरी की, चौंकाने वाला कीर्तिमान

Photo Credit - BCCI
Photo Credit - BCCI
Nitesh
ANALYST
Modified 08 Feb 2021
न्यूज़

इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई टेस्ट मैच में भारत के प्रमुख स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने एक अनोखा कीर्तिमान अपने नाम कर लिय। ये एक ऐसा रिकॉर्ड है जिसे पिछले 114 सालों से कोई भी गेंदबाज हासिल नहीं कर सका था।

दरअसल अश्विन ने इंग्लैंड की दूसरी पारी के दौरान पहली ही गेंद पर विकेट चटका दिया। उन्होंने रोरी बर्न्स को स्लिप में खड़े अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच आउट कराया। इस तरह से अश्विन किसी भी टेस्ट पारी की पहली ही गेंद पर विकेट चटकाने वाले दुनिया के तीसरे गेंदबाज बन गए हैं। उन्होंने 114 साल बाद इस कारनामे को अंजाम दिया। इससे पहले 1888 में बॉबी पील और 1907 में बर्ट वोल्गर ने ये कारनामा किया था। अब रविचंद्रन अश्विन भी इन गेंदबाजों की लिस्ट में शुमार हो गए हैं।

ये भी पढ़ें: 3 टीमें जो आईपीएल 2021 के ऑक्शन में एलेक्स हेल्स को खरीद सकती हैं

रविचंद्रन अश्विन एशिया में तीसरे सबसे तेज 300 विकेट लेने वाले गेंदबाज बने

इससे पहले रविचंद्रन अश्विन ने एक और बड़ा कीर्तिमान अपने नाम किया था। वो एशिया में तीसरे सबसे तेज 300 विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए। इंग्लैंड की पहली पारी में जेम्स एंडरसन का विकेट लेते ही उन्होंने ये इतिहास रच दिया। अश्विन ने यह रिकॉर्ड 98 पारियों में हासिल किया। इनसे पहले यह रिकॉर्ड रंगना हेराथ के नाम था। हेराथ ने 106 पारियों में ऐसा किया था।

भारतीय गेंदबाजों में ये रिकॉर्ड अनिल कुंबले के नाम है। कुंबले ने 95 पारियों में एशिया में 300 विकेट लेने का कारनामा किया था। वहीं एशिया में सबसे तेज 300 टेस्ट विकेट लेने का रिकॉर्ड श्रीलंका के पूर्व दिग्गज स्पिनर मुथैया मुरलीधरन के नाम है। मुरलीधरन ने 87 पारियों में सबसे तेज 300 विकेट लिए थे और उनका यह रिकॉर्ड आज भी कायम है।

ये भी पढ़ें: भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई में होने वाले दूसरे टेस्ट मैच की टिकट कहां और कैसे बुक करें ?

Published 08 Feb 2021
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now