Create

रविचंद्रन अश्विन ने बताया कैसे IPL बनी दुनिया की सबसे बड़ी टी20 लीग

2009 से लगातार IPL का हिस्सा हैं रविचंद्रन अश्विन
2009 से लगातार IPL का हिस्सा हैं रविचंद्रन अश्विन
Neeraj Pandey

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) आज के समय में दुनिया की सबसे बड़ी टी20 लीग है और इसकी लोकप्रियता साल दर साल लगातार बढ़ती ही जा रही है। भारतीय क्रिकेटर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने हाल ही में इस बात को लेकर बातचीत की है कि आखिर कैसे आईपीएल इतना लोकप्रिय बना है। अपने यूट्यूब चैनल पर डाले गए एक वीडियो में अश्विन ने बताया है कि किस तरह भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) द्वारा लिया गया यह फैसला ऐतिहासिक साबित हुआ है। उन्होंने कहा,

बीसीसीआई ने आईपीएल का निजीकरण किया है। वे निजी मालिकाना हक वाली टीमों को लाये और फ्रेंचाइजियों को प्रोफेशनल तरीके से टीम चलाने की आजादी दी गई। मेरे ख्याल से सबसे बड़ा यही कारण है कि आज आईपीएल इतना बड़ा हो गया है। खेल जगत में यह काफी बड़ी चीज हो गई है और यह सभी भारतीयों के लिए गर्व की बात है।

2008 में शुरू हुआ आईपीएल आज के समय में दुनिया का दूसरा सबसे महंगा स्पोर्ट्स लीग हो चुका है। बीसीसीआई ने हाल ही में आईपीएल के मीडिया अधिकारों की बिक्री की थी जिसमें उन्होंने लगभग 50000 करोड़ रुपये की कमाई की थी। आईपीएल के एक मैच की बात की जाए तो अगले सीजन से बीसीसीआई को प्रति मैच लगभग 107 करोड़ रुपये मिलने वाले हैं।

अन्य देशों ने नहीं किए हैं अपनी लीग्स के निजीकरण

ऑस्ट्रेलिया में खेली जाने वाली बिग बैश लीग और इंग्लैंड में हो रही द हंड्रेड में अब तक पूरी तरह निजीकरण को लागू नहीं किया गया है। इन दोनों ही लीग्स पर इन देशों के क्रिकेट बोर्ड्स का पूरा अधिकार है और संभवतः यही कारण है कि ये इतनी सफल नहीं हो पा रही हैं। हाल ही में दक्षिण अफ्रीका ने अपने यहां एक नई टी20 लीग की शुरुआत की है जिसका पहला सीजन अगले साल खेला जा सकता है। इस लीग में पूरी तरह से आईपीएल के ही तरीके को अपनाया गया है और फ्रेंचाइजी को पूरे अधिकार दे दिए गए हैं। गौरतलब है कि दक्षिण अफ्रीकी लीग में सभी छह टीमों को आईपीएल टीमों के मालिकों ने ही खरीदा है।


Edited by Prashant Kumar

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...