Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

Hindi Cricket News: रविचंद्रन अश्विन ने क्रिकेट में गेंदबाजों की भूमिका पर बड़ा बयान दिया, मांकडिंग विवाद का भी जिक्र

Richa Gupta
ANALYST
न्यूज़
Modified 20 Dec 2019, 23:37 IST

रविचंद्रन अश्विन
रविचंद्रन अश्विन

अनिल कुंबले और हरभजन सिंह के बाद रविचंद्रन अश्विन भारत के सबसे सफल स्पिन गेंदबाज साबित हुए हैं। तमिलनाडु के इस ऑफ स्पिन गेंदबाज ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में भारत को कई महत्वपूर्ण मुकाबलों में जीत हासिल करवाई है। बीते दिनों एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने मांकडिंग विवाद और क्रिकेट में गेंदबाजों के प्रति रखी जाने वाली धारणा के प्रति बात की। आइए जानते हैं उन्होंने क्या कहा। 

अनिल कुंबले का जीवन लोगों को गलत साबित करने में चला गया

कई वर्षों से क्रिकेट इस तथ्य पर चला आ रहा है कि यह बल्लेबाजी का खेल है। इसमें बल्लेबाजों को फर्स्ट क्लास और गेंदबाजों को लेबर क्लास का माना जाता है। यह धारणा आज की नहीं बल्कि बहुत पुरानी है। अनिल कुंबले ने मुझसे एक बार कहा था कि उनका जीवन लोगों को गलत साबित करने में ही चला गया। वह चाहते थे कि लोग गेंदबाज होने का अहसास करें। इस बात को समझते हुए मैं भी उनकी यात्रा में शामिल हो गया और गेंदबाज बन गया। इसके बाद मुझे भी लगा कि लोगों को बताना होगा कि गेंदबाज बनना अच्छा है। मैं लोगों को गेंद उठाने के लिए प्रेरित करना चाहता हूं। मैं अपनी बात करूं तो कोई जवागल श्रीनाथ न बनना चाहता, जब तक वह 100 से ज्यादा विकेट न लेते। इसी तरह कोई अनिल कुंबले नहीं बनना चाहता, जब तक वह एक पारी में दस विकेट लेने के साथ करियर में 600 विकेट न लेते। इसके लिए साबित करके दिखाना होगा कि गेंदबाजी भी क्रिकेट का बल्लेबाजी की तरह ही महत्वपूर्ण विभाग है। मैंने तो इन गेंदबाजों से प्रेरणा लेकर ही गेंद को चुना। अब चाहता हूं कि लोगों को भी गेंदबाजी के लिए प्रेरित कर सकूं। 

मुझे मांकडिंग विवाद ने जरा भी परेशान नहीं किया

आईपीएल के 12वें संस्करण में मांकडिंग विवाद ने अश्विन को जरा भी विचलित नहीं किया। उनके मुताबिक, उन्होंने जो किया, वो आईसीसी के नियमों के तहत था। हालांकि, बस उन्होंने सोशल मीडिया से 15 दिन की दूरी बना ली थी। अश्विन ने कहा कि वास्तव में मैं मांकडिंग विवाद को लेकर कतई परेशान नहीं था। प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद जब मैंने पत्नी को फोन किया तो उसने कहा कि क्या तुम सोशल मीडिया नहीं देखना चाहोगे। उसके बाद मैंने 10-15 दिनों तक सोशल मीडिया ही नहीं देखा। मुझे इस विवाद के बाद कई पूर्व खिलाड़ियों का समर्थन मिला। मेरे पास कपिल देव और मुरली कार्तिक के फोन आए। उन्होंने कहा कि जो आपने किया वो गलत नहीं था। आप बिल्कुल सही हो। आपको उस तरफ ध्यान देने की कोई जरूरत नहीं है कि लोग क्या कह रहे हैं। 

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Published 29 Jun 2019, 19:49 IST
Advertisement
Fetching more content...