Create

3 मौके जब ऋषभ पंत ने मुश्किल स्थिति में जबरदस्त बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम को दिलाई जीत 

ऋषभ पंत शॉट खेलते हुए(Photo: BCCI)
ऋषभ पंत शॉट खेलते हुए(Photo: BCCI)

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) एक तूफानी बल्लेबाज है और इस बात से हर कोई वाकिफ है कि अगर उनका बल्ला चलता है तो वो कुछ भी कर सकते हैं। पंत ने आईपीएल (IPL) और घरेलू क्रिकेट में तो अपने बल्लेबाजी का जलवा दिखाया ही है, लेकिन पिछले दो सालों में उन्होंने भारतीय टीम (Indian Team) के लिए भी जबरदस्त प्रदर्शन करके दिखाया है।

पिछले कुछ सालों में ऋषभ पंत ने बिल्कुल अपने नाम के मुताबिक प्रदर्शन करके दिखाया है। इसी वजह से एक-एक करके पंत की तीनों फॉर्मेट में वापसी भी हुई और उन्होंने अपने चयन को सही भी साबित किया।

वैसे जब भी एक मैच विनर खिलाड़ी की बात होती है, तो हमेशा दबाव में किए गए प्रदर्शन को सबसे ज्यादा आंका जाता है। वैसे ही ऋषभ पंत ने अपने दम पर भारत को मुश्किल स्थिति में शानदार पारी खेलते हुए टीम को जीत दिलाई है।

इस आर्टिकल में हम ऋषभ पंत की ऐसी ही पारियों के ऊपर नजर डालने वाले हैं

स्पेशल मेंशन

#) 78 रन vs इंग्लैंड, पुणे 2021

ऋषभ पंत vs इंग्लैंड (Photo: BCCI)
ऋषभ पंत vs इंग्लैंड (Photo: BCCI)

भारत और इंग्लैंड के बीच इस साल मार्च में 3 वनडे मैचों की सीरीज खेली गई। सीरीज का तीसरा मुकाबला 28 मार्च को पुणे में खेला गया था। इस मैच में दोनों ही टीमें एक-एक मैच जीतकर आई थी और यह सीरीज डिसाइडर मुकाबला था। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम का स्कोर 117-2 था, जब पंत बल्लेबाजी करने आए थे।

हालांकि जल्द ही टीम ने विराट कोहली और केएल राहुल के विकेट भी गंवा दिए थे, जिसके बाद टीम का स्कोर 25वें ओवर में 157-4 हो गया। यहां से ऋषभ पंत ने न सिर्फ हार्दिक पांड्या के साथ 11.4 ओवरों में 99 रनों की अहम साझेदारी की, बल्कि तूफानी अर्धशतक जड़ते हुए जबरदस्त पारी खेली।

पंत ने 62 गेंदों में 5 चौके और 4 छक्कों की मदद से 78 रन बनाए और इस बीच उनका स्ट्राइक रेट 125.80 का रहा। उनकी इसी पारी की बदौलत भारत ने 329 रन बनाए, जिसके जवाब में इंग्लैंड की टीम 50 ओवरों के बाद 322-9 का स्कोर ही बना पाई और 7 रन से इस मैच को हार गई। अंत में पंत की यह पारी भारतीय टीम के लिए फायदेमंद साबित हुई।

#) 125* रन vs इंग्लैंड, मेनचेस्टर 2022

England v India - 3rd Royal London Series One Day International
England v India - 3rd Royal London Series One Day International

भारत और इंग्लैंड के बीच 17 जुलाई को मेनचेस्टर में सीरीज का तीसरा और निर्णायक वनडे मैच खेला गया। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 259 रन बनाए और 260 रनों का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बेहद खराब रही। ऋषभ पंत 21-2 के स्कोर पर बल्लेबाजी करने आए और जल्द ही टीम का स्कोर 38-3 हो गया। इसके बाद 72 तक टीम ने 4 विकेट गंवा दिए थे।

यहां से ऋषभ पंत ने हार्दिक पांड्या के साथ 133 रनों की जबरदस्त साझेदारी करते हुए टीम को मजबूती स्थिति में पहुंचाया। इसके बाद पंत ने अकेले दम पर तूफानी पारी खेलते हुए शतक पूरा किया और 42.1 ओवरों में टीम को 5 विकेट से जबरदस्त जीत दिलाई। पंत ने मैच में 113 गेंदों में 16 चौके और 2 छक्कों की मदद से नाबाद रहते हुए 125* रन बनाए। पंत ने खुद कहा कि वो इस पारी को जिंदगी भर याद रखेंगे।

#) 101 रन vs इंग्लैंड, अहमदाबाद टेस्ट 2021

ऋषभ पंत vs इंग्लैंड (Photo: BCCI)
ऋषभ पंत vs इंग्लैंड (Photo: BCCI)

भारत और इंग्लैंड के बीच 4 मार्च से अहमदाबाद में सीरीज का चौथा और आखिरी टेस्ट खेला गया था। भारत को अगर आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनानी थी, तो टीम को इस मैच में हार हालत में हार से बचना था।

इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 205 रन बनाए और एक समय भारतीय टीम का स्कोर 146-6 हो गया था और टीम काफी मुश्किल स्थिति में पहुंच गई थी। यहां से पंत ने पहले संयम दिखाया और सेट होने के बाद शानदार बल्लेबाजी भी करके दिखाई। पंत ने वॉशिंगटन सुंदर के साथ 113 रनों की अहम साझेदारी की और भारत को बढ़त दिलाई।

पंत ने 118 गेंदों में 13 चौके और दो छ्क्कों की मदद से 101 रन बनाए। भारत ने अपनी पहली पारी में 365 रन बनाए और इंग्लैंड को दूसरी पारी में 135 रनों पर ऑलआउट करते हुए इस मैच को एक पारी और 25 रनों से जीता। पंत को उनकी शतकीय पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

#) 89* रन vs ऑस्ट्रेलिया, गाबा 2021

ऋषभ पंत vs ऑस्ट्रेलिया
ऋषभ पंत vs ऑस्ट्रेलिया

ऋषभ पंत से अगर उनके करियर की सबसे यादगार पारी पूछी जाएगी, तो निश्चित ही वो भी इस साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गाबा में खेली गई पारी का नाम सबसे पहले लेंगे। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ब्रिस्बेन के गाबा में सीरीज का आखिरी मुकाबला खेला गया। दोनों ही टीमें इस मैच में 1-1 की बराबरी पर आई थी।

भारतीय टीम को आखिरी पारी में जीतने के लिए 338 रनों का लक्ष्य मिला था और मैच के आखिरी दिन ऐसे लक्ष्य बहुत ही मुश्किल ही चेस होते हैं। हालांकि 167-3 के स्कोर पर पंत बल्लेबाजी करने आए और इस समय मैच किसी भी तरफ जा सकता था।

पंत ने यहां से एक छोर संभाले रखा और छोटी-छोटी साझेदारी करते हुए भारत को लक्ष्य के करीब पहुंचाया। मैच में एक समय ऐसा भी आया जब टीम ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवा दिए, जिसके बाद पूरा दबाव पंत पर आ गया था।

हालांकि पंत ने संयम बरता और 138 गेंदों में 9 चौके और एक छक्के की मदद से 89* रनों की बेहतरीन पारी खेलते हुए भारत को 3 विकेट से ऐतिहासिक जीत दिलाई। पंत को उनकी शानदार पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया था और भारत ने सीरीज को भी 2-1 से जीता।

Quick Links

Edited by Narender
2 comments