Create
Notifications

विराट कोहली के द्वारा टेस्ट कप्तानी छोड़े जाने की वजह को लेकर पूर्व खिलाड़ी ने दिया बड़ा बयान 

विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज हार के बाद टेस्ट कप्तानी छोड़ दी
विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज हार के बाद टेस्ट कप्तानी छोड़ दी
Prashant Kumar
visit

विराट कोहली (Virat Kohli) के टेस्ट कप्तानी छोड़ने के फैसले ने सभी को हैरान कर दिया। सभी के मन में यही सवाल है कि उन्होंने इतना बड़ा फैसला अचानक क्यों लिया लेकिन किसी को इसका जवाब नहीं पता। इस बीच पूर्व भारतीय खिलाड़ी सबा करीम (Saba Karim) का भी बयान आया है, जिन्होंने कहा है कि पिछले कुछ महीनों में जो भी हुआ उससे विराट को घुटन हो रही होगी और इसी वजह से उन्होंने ऐसा किया।

कोहली ने T20 वर्ल्ड कप 2021 के पहले ही इस प्रारूप की कप्तानी टूर्नामेंट के बाद छोड़ने का ऐलान कर दिया था। चयनकर्ताओं ने इसके बाद उन्हें वनडे की कप्तानी से हटाने का फैसला लिया और अब विराट ने टेस्ट कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है।

इंडिया न्यूज पर विराट के फैसले पर, सबा करीम ने कहा कि यह उन पर बढ़ते दबाव के कारण हो सकता है। उन्होंने कहा,

इसके पीछे क्या कारण है यह कहना बहुत मुश्किल है। पिछले चार-पांच महीनों में जो तस्वीर हमें देखने को मिल रही है, उसका मतलब है कि उस पर दबाव बन रहा था। वह घुटन महसूस कर रहा होगा जिसके कारण उसने कप्तानी से खुद को दूर रखने का फैसला लिया।

सबा ने कहा कि विराट हमेशा से ही आसानी से हार नहीं मानते हैं। उन्होंने आगे कहा,

विराट कोहली एक ऐसे व्यक्ति हैं जो लड़ाई से एक कदम पीछे नहीं हटते हैं। मैं मानता हूं कि भारत दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज हार गया, जहां उन्हें जीतने की उम्मीद थी, लेकिन वह हमेशा ऐसी चुनौतियों के लिए तैयार है। यह पहली बार है जब उसने खुद ऐसा फैसला लिया है।

मैंने नहीं सोचा था कि इतने सारे बदलाव इतनी जल्दी होंगे - सबा करीम

सबा करीम से पिछले चार महीनों में इतने सारे बदलावों के बारे में भी पूछा गया। इस पर उन्होंने कहा,

मैंने नहीं सोचा था कि इतनी जल्दी इतने सारे बदलाव होंगे। पहला झटका तब लगा जब कोहली ने खुद फैसला किया कि वह टी20 कप्तानी नहीं करेंगे। हमने उस समय के बारे में भी बात की थी जब वर्ल्ड कप होने वाला था और टीम का चयन किया गया था, कोहली का ऐसा निर्णय लेना बेहद आश्चर्यजनक था।

सबा करीम ने कहा कि इन बदलावों में विराट और चयनकर्ताओं दोनों का योगदान है लेकिन ये आसान नहीं हैं। पूर्व विकेटकीपर ने कहा,

चयनकर्ताओं ने तब फैसला किया कि कोहली वनडे क्रिकेट में भी कप्तान नहीं रहेंगे। इसलिए बहुत सारे बदलाव बहुत जल्दी हुए हैं। पहला बदलाव खुद कोहली ने शुरू किया था, लेकिन उसके बाद, चयनकर्ताओं की बदलाव में भूमिका थी और अंत में, फिर से कोहली का यह व्यक्तिगत निर्णय आया।

Edited by Prashant Kumar
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now