Create
Notifications

सचिन तेंदुलकर के 4 ऐतिहासिक मैच जिसका हिस्सा युवराज सिंह नहीं थे

युवराज सिंह और सचिन तेंदुलकर
युवराज सिंह और सचिन तेंदुलकर
EXPERT COLUMNIST

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) की गिनती सिर्फ भारतीय टीम (Indian Team) के ही नहीं बल्कि विश्व क्रिकेट के सबसे बड़े मैच विनर्स में की जाती है। युवराज सिंह ने साल 2000 में अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत की थी और 2017 में उन्होंने संन्यास लिया था। युवराज सिंह अपने करियर में सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के साथ काफी क्रिकेट खेले हैं।

भारतीय टीम के लिए खेलते हुए वैसे तो युवराज सिंह ने काफी कुछ हासिल किया। वो अंडर 19 वर्ल्ड कप, टी20 वर्ल्ड कप, वर्ल्ड कप, चैंपियंस ट्रॉफी, एशिया कप सब कुछ जीते हैं। इसके अलावा वो तीनों फॉर्मेट में नंबर 1 रहने वाली भारतीय टीम का हिस्सा भी रहे हैं।

हालांकि इतना कुछ हासिल करने के बावजूद भी ऐसे कई ऐतिहासिक मैच एवं पल रहे हैं जिसका हिस्सा युवराज सिंह नहीं बन पाए। वैसे तो युवराज सिंह भारतीय टीम का मुख्य हिस्सा रहे हैं, लेकिन खराब फॉर्म एवं फिटनेस के कारण जरूर उन्हें टीम से बाहर रहना पड़ा।

युवराज सिंह को जरूर मलाल होगा कि वो इन खास पलों का हिस्सा नहीं पाए। इस आर्टिकल में हम ऐसे ही मैचों के बारे में बात करेंगे:

#) भारत vs दक्षिण अफ्रीका (सचिन तेंदुलकर का दोहरा शतक)

Enter caption

वनडे क्रिकेट इतिहास का पहला दोहरा शतक भारत के दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने लगाया था। साल 2010 में 24 फरवरी को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मुकाबले में सचिन तेंदुलकर ने 200* रनों की ऐतिहासिक पारी खेली थी। यह मैच ग्वालियर में खेला गया था।

सचिन तेंदुलकर ने 147 गेंदों में 25 चौके और 3 छक्कों की मदद से 200* रनों की बेहतरीन पारी खेली थी। सचिन के बाद भारत की तरफ से रोहित शर्मा ने 3 और वीरेंदर सहवाग ने भी एक दोहरा शतक लगाया है। हालांकि जब सचिन तेंदुलकर ने दोहरा शतक लगाया था, तो उस प्लेइंग इलेवन का हिस्सा युवराज सिंह नहीं थे। इसी वजह से वो वनडे क्रिकेट के सबसे ऐतिहासिक मैचों में से एक का हिस्सा बनने से चूक गए थे।

1 / 4 NEXT
Edited by मयंक मेहता
💬 1 comment
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now