प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट पायलट को दे देना चाहिए...एशिया कप को लेकर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान ने किया कटाक्ष

एशिया कप का आयोजन हाइब्रिड मॉडल के तहत हो रहा है
एशिया कप का आयोजन हाइब्रिड मॉडल के तहत हो रहा है

एशिया कप 2023 (Asia Cup) का आयोजन हाइब्रिड मॉडल के तहत हो रहा है। इसी वजह से टीमों को पाकिस्तान और श्रीलंका दोनों जगह काफी ज्यादा ट्रैवल करना पड़ रहा है। इसको लेकर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलमान बट्ट ने बड़ा कटाक्ष किया है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से टीमें इधर से उधर जा रही हैं और इतना ट्रैवल कर रही हैं उसे देखते हुए प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का खिताब पायलट को दे देना चाहिए।

एशिया कप 2023 का आयोजन इस बार हाइब्रिड मॉडल के तहत आयोजित किया जा रहा है। इसके तहत चार मैच पाकिस्तान में और बाकी नौ मैच श्रीलंका में हैं। इसी वजह से भारत के अलावा पाकिस्तान, श्रीलंका और बांग्लादेश को काफी ट्रैवल करना पड़ा। खासकर पाकिस्तानी टीम को ज्यादा ट्रैवल करना पड़ा।

टीमों को काफी ज्यादा ट्रैवल करना पड़ा है - सलमान बट्ट

सलमान बट्ट के मुताबिक इस बार एशिया कप में इस वजह से हाई-स्कोरिंग मुकाबले नहीं देखने को मिले हैं क्योंकि टीमों को काफी ज्यादा ट्रैवल करना पड़ा है। उन्होंने अपने यू-ट्यूब चैनल पर बातचीत के दौरान कहा,

पिच और कंडीशंस के हिसाब से एडजस्ट करने में समय लगता है। इसी वजह से हमने एशिया कप में अभी तक ज्यादा बड़े टोटल नहीं देखे हैं। टीमों ने रन बनाने से ज्यादा ट्रैवल किया है। एक टीम पहले पाकिस्तान आती है और फिर एक मैच के बाद वापस श्रीलंका जाती है। प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट पायलट को देना चाहिए।

आपको बता दें कि 10 सितंबर को एक बार फिर से भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला खेला जाएगा। हालांकि इस मैच में बारिश के पूरे आसार हैं और इसी वजह से सिर्फ इस मैच के लिए एक रिजर्व डे रखा गया है। अगर बारिश की वजह से 10 सितंबर को मैच नहीं हो पाता है तो फिर 11 सितंबर को ये मुकाबला खेला जा सकेगा।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
App download animated image Get the free App now