संजू सैमसन ने पास किया यो-यो टेस्ट

विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन ने यो-यो टेस्ट पास कर लिया है। बेंगलूरू के नेशनल क्रिकेट एकेडमी में उन्होंने 17.3 स्कोर के साथ उन्होंने यो-यो टेस्ट पास किया। उन्होंने ये जानकारी अपने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए दी। संजू सैमसन ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट पर लिखा। 4 हफ्ते के बाद यो-यो टेस्ट पास, 15.6 से 17.3 का स्कोर। आप सभी के शुभकामनाओं के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

पिछली बार संजू सैमसन यो-यो टेस्ट में फेल हो गए थे। वो 15.6 का स्कोर ही कर पाए थे, जबकि इस टेस्ट को पास करने के लिए जरूरी स्कोर 16.1 है। इस वजह से संजू सैमसन इंडिया ए के इंग्लैंड दौरे पर नहीं जा पाए थे, उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था। उनकी जगह इशान किशन को टीम में शामिल किया गया था। संजू सैमसन ने आईपीएल के 11वें सीजन में बेहतरीन प्रदर्शन किया था। इसी वजह से उन्हें इंडिया ए टीम में शामिल किया गया था। राजस्थान रॉयल्स की तरफ से खेलते हुए संजू सैमसन ने 441 रन बनाए थे। हालांकि यो-यो टेस्ट में फेल होने की वजह से वो इंग्लैंड के अहम दौरे पर नहीं जा पाए। भारतीय ए टीम का इंग्लैंड दौरा अभी तक काफी अच्छा रहा है। टीम ने जबरदस्त प्रदर्शन किया है। पृथ्वी शॉ, मयंक अग्रवाल, करुण नायर, आर समर्थ, हनुमा विहारी जैसे खिलाड़ियों का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है। वहीं यो-यो टेस्ट को लेकर पूर्व दिग्गज कपिल देव ने आलोचना की थी और कहा था कि खिलाड़ियों के चयन का अंतिम पैमाना सिर्फ यो-यो टेस्ट ही नहीं होना चाहिए। कपिल देव ने कहा कि खिलाड़ी अगर मैच में फिट है तो उसके लिए कोई दूसरा पैमाना तय नहीं करके खिलाना चाहिए। आगे उन्होंने कहा कि फुटबॉल के महान खिलाड़ी डियागो माराडोना भी तेज नहीं थे लेकिन जब गेंद उनके पास होती थी तो वे भी तेज हो जाते थे। इस तरह क्रिकेट के मैदान पर भी फिटनेस के लिए खिलाड़ियों के अलग तरीके होते हैं।

App download animated image Get the free App now