Create
Notifications

"अगर हार्दिक पांड्या गेंदबाजी नहीं करते हैं तो फिर उन्हें वनडे और टी20 टीम में भी जगह नहीं मिलनी चाहिए"

हार्दिक पांड्या गेंदबाजी करते हुए
हार्दिक पांड्या गेंदबाजी करते हुए
सावन गुप्ता

पूर्व भारतीय सेलेक्टर सरनदीप सिंह (Sarandeep Singh) ने दिग्गज ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने भारतीय टेस्ट टीम में हार्दिक पांड्या को शामिल नहीं किए जाने के फैसले को सही बताया है। सरनदीप सिंह का कहना है कि अगर हार्दिक पांड्या गेंदबाजी करने में सक्षम नहीं हैं तो फिर उन्हें वनडे और टी20 टीम में भी जगह नहीं मिलनी चाहिए।

2019 में सर्जरी के बाद से ही हार्दिक पांड्या अपनी पूरी क्षमता के साथ गेंदबाजी नहीं कर पाए हैं। उन्होंने पार्ट टाइम के तौर पर कभी-कभार ही बॉलिंग की है। उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल और इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम में नहीं शामिल किया गया है।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान इंग्लैंड का अहम सदस्य उपलब्ध नहीं रहेगा

हार्दिक पांड्या को लेकर सरनदीप सिंह का पूरा बयान

पीटीआई से बातचीत में भारत के स्पिनर रह चुके सरनदीप सिंह ने कहा,

सेलेक्टर्स ने टेस्ट मैचों के लिए हार्दिक पांड्या को नजरंदाज करके सही फैसला लिया है। अपनी सर्जरी के बाद से वो लगातार गेंदबाजी नहीं कर पा रहे हैं। मुझे लगता है कि अगर छोटे फॉर्मेट में भी उन्हें अपनी जगह बनानी है तो फिर वनडे में 10 और टी20 में चार ओवर गेंदबाजी उन्हें करनी ही होगी। वो सिर्फ एक बल्लेबाज के तौर पर टीम में नहीं खेल सकते हैं। क्योंकि अगर हार्दिक गेंदबाजी नहीं करते हैं तो फिर इससे टीम का बैलेंस काफी खराब जाता है। आपको इसकी वजह से एक अतिरिक्त गेंदबाज को खिलाना पड़ता है और सूर्यकुमार यादव जैसे बल्लेबाजों को फिर बाहर बैठना पड़ता है। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में हमने देखा था कि पांच गेंदबाजी ऑप्शन के साथ नहीं उतरा जा सकता है।

ये भी पढ़ें:"IPL में मोईन अली को नंबर 3 पर प्रमोट करना चेन्नई सुपर किंग्स के लिए मास्टर स्ट्रोक साबित हुआ"


Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...