Create
Notifications

"शाहिद अफरीदी नहीं चाहते थे कि मैं 2009 में कप्तानी करूं क्योंकि वो खुद कप्तान बनना चाहते थे"

2009 टी20 वर्ल्ड कप के दौरान शाहिद अफरीदी और यूनिस खान
2009 टी20 वर्ल्ड कप के दौरान शाहिद अफरीदी और यूनिस खान
reaction-emoji
Nitesh

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान यूनिस खान (Younis Khan) ने शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) को लेकर एक सनसनीखेज खुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि 2009 में शाहिद अफरीदी चाहते थे कि मैं कप्तानी छोड़ दूं क्योंकि अफरीदी खुद पाकिस्तान टीम का अगला कप्तान बनना चाहते थे।

2009 की आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान पाकिस्तान टीम में विवाद की खबरें सामने आई थीं। कहा जा रहा था कि पाकिस्तानी खिलाड़ी यूनिस खान की कप्तानी और उनके व्यवहार से खुश नहीं थे।

वहीं एआरवाई न्यूज पर यूनिस खान ने खुलासा किया है कि खिलाड़ियों को उनकी कप्तानी से कोई दिक्कत नहीं थी। उनके मुताबिक शाहिद अफरीदी समेत सभी सीनियर खिलाड़ी खुद कप्तान बनना चाहते थे। इसी वजह से उनके और प्लेयर्स के बीच विवाद था।

ये भी पढ़ें: मार्नस लैबुशेन अहम टी20 प्रतियोगिता से बाहर, न्यूजीलैंड के खिलाड़ी को किया गया शामिल

यूनिस खान ने बताया कि 2009 में क्या हुआ था ?

यूनिस खान ने कहा "अगर खिलाड़ियों को मुझसे प्रॉब्लम थी तो उन्हें मुझसे बात करनी चाहिए थी। उनका कहना है कि वो मुझे कप्तानी से हटाना नहीं चाहते थे बल्कि क्रिकेट बोर्ड से चाहते थे कि वो मुझसे बात करें ताकि मैं अपने एट्टीट्यूड में बदलाव करूं। उसके बाद जब खिलाड़ियों ने उस वक्त के पीसीबी चेयरमैन एजाज बट्ट से मुलाकात की थी तो शाहिद अफरीदी ने कप्तानी में बदलाव की मांग की थी। मेरा मानना है कि ये सब कप्तानी की महत्वाकांक्षा के कारण हुआ।"

हाल ही में यूनिस खान ने पाकिस्तान टीम के बैटिंग कोच पद से भी इस्तीफा दे दिया था। उनके और तेज गेंदबाज हसन अली के बीच विवाद की भी खबरें सामने आई थीं। यूनिस खान काफी कम समय तक पाकिस्तान के बैटिंग कोच रहे।

ये भी पढ़ें: "जो टीम WTC के प्वॉइंट्स टेबल में टॉप पर रहे उसे ही फाइनल मैच की मेजबानी करनी चाहिए"


Edited by Nitesh
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...