Create

"इन विकेटों पर खेलने से किसी भी बल्लेबाज का करियर खत्म हो सकता है"

शाकिब अल हसन ने घरेलू पिचों को लेकर नाराजगी जताई
शाकिब अल हसन ने घरेलू पिचों को लेकर नाराजगी जताई
Prashant Kumar

बांग्लादेश (Bangladesh Cricket Team) की टीम ने हाल ही में घरेलू सीरीज में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड जैसे टीमों के खिलाफ जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए लगातार दो टी20 सीरीज जीती। हालांकि इस दौरान पिच को लेकर काफी आलोचना हुयी। बांग्लादेश ने इन दोनों सीरीज में मेहमान टीमों को धीमी पिचों पर खिलाया और इस वजह से विरोधी टीमें संघर्ष करती हुयी दिखीं। इस सीरीज में दोनों ही टीमों के बल्लेबाजों के लिए रन बनाने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा। बांग्लादेश के दिग्गज ऑलराउंडर शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan) का मानना है कि इन सीरीज के प्रदर्शन के आधार पर किसी भी बल्लेबाज को नहीं आंकना चाहिए। बांग्लादेश ने सबसे पहले ऑस्ट्रेलिया को 4-1 से हराया और उसके बाद न्यूजीलैंड की टीम को 3-2 से शिकस्त दी।

शाकिब ने यूएई के लिए रवाना होने से पहले आईपीएल 2021 में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) टीम में शामिल होने से पहले मीडिया से बात करते हुए कहा,

पिछले नौ-दस मैच खेलने वाले सभी फॉर्म से बाहर हैं। इस तरह विकेट था। किसी ने अच्छा नहीं किया। मुझे उम्मीद है कि बल्लेबाज इस प्रदर्शन पर ध्यान नहीं देंगे। अगर कोई बल्लेबाज इन विकेटों पर 10-15 मैच खेलता है तो करियर खत्म हो जाएगा। इसलिए इस पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है।

शाकिब ने टी20 विश्व कप में टीम के अच्छे प्रदर्शन की जताई उम्मीद

शाकिब ने टी20 वर्ल्ड कप की शुरूआत से पहले दुनिया भर की टॉप टीमों को कड़ी चेतावनी दी है। उन्होंने कहा है कि बांग्लादेश के अंदर अब जीत की मानसिकता आ गई है और इसी वजह से वो सभी टीमों को कड़ी चुनौती पेश करेंगे।

हमारी टीम वर्ल्ड कप से पहले कम से कम 15-16 दिनों के लिए ओमान में रहेगी। इससे हमें वहां के कंडीशंस के हिसाब से खुद को ढालने का मौका मिलेगा। हमने एक विनिंग मेंटलिटी बना ली है और इससे हमें वर्ल्ड कप में काफी फायदा होगा।

शाकिब का मानना है कि आईपीएल में खेलने से उन्हें काफी फायदा होगा और इसके बाद वो यहां की परिस्थितियों के बारे में राष्ट्रीय टीम के अन्य खिलाड़ियों को भी बताएंगे, जिससे टी20 विश्व कप में हमे फायदा हो।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...