Create
Notifications

मुस्तफिजुर रहमान पर टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए दबाव नहीं बनाया जाना चाहिए, शाकिब अल हसन की प्रतिक्रिया

मुस्तफिजुर रहमान ने आखिरी बार 2021 में टेस्ट मैच खेला था
मुस्तफिजुर रहमान ने आखिरी बार 2021 में टेस्ट मैच खेला था
reaction-emoji
सावन गुप्ता

बांग्लादेश के टेस्ट कप्तान शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan) ने तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान (Mustafizur Rahman) का बचाव किया है। उन्होंने कहा है कि टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए मुस्तफिजुर पर किसी तरह का कोई दबाव नहीं डाला जाना चाहिए।

मुस्तफिजुर ने आखिरी बार फरवरी 2021 में बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट मुकाबला खेला था और उसके बाद से ही उन्होंने इस फॉर्मेट में हिस्सा नहीं लिया है। अपने क्रिकेट करियर को लंबा करने के लिए मुस्तफिजुर टेस्ट फॉर्मेट खेलने से बच रहे थे। हालांकि वो आगामी दो मैचों की टेस्ट सीरीज का हिस्सा हैं।

इस कैलेंडर साल के लिए कॉन्ट्रैक्ट नहीं होने के बावजूद मुस्तफिजुर रहमान टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए राजी हो गए हैं। वहीं शाकिब अल हसन ने कहा है कि मुस्तफिजुर पर किसी तरह का कोई दबाव नहीं डाला जाना चाहिए।

मुस्तफिजुर पर दबाव नहीं बनाना चाहिए - शाकिब अल हसन

एंटीगुआ में वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट मुकाबले से पूर्व पत्रकारों से बातचीत में शाकिब अल हसन ने कहा,

मुझे नहीं लगता है कि मुस्तफिजुर को टेस्ट क्रिकेट के लिए मोटिवेट करना चाहिए। क्योंकि अगर वो वनडे या टी20 ही खेलना चाहते हैं तो फिर हमें उनके फैसले का सम्मान करना चाहिए। वो इस सीरीज का हिस्सा हैं और मुझे पूरा यकीन है कि वो इन दो मैचों को खेलने के लिए पूरी तरह से मोटिवेट होंगे क्योंकि ये सीरीज हमारे लिए काफी अहम है। एक कप्तान के तौर पर मेरा फोकस इन दोनों मैचों पर है और मुस्तफिजुर रहमान भी काफी मोटिवेटेड लग रहे हैं। लॉन्ग टर्म में मुझे नहीं पता है कि मुस्तफिजुर टेस्ट क्रिकेट खेलना चाहते हैं या नहीं लेकिन मेरा मानना है कि हर एक खिलाड़ी की अपनी एक अलग प्राथमिकता होती है। उसका अपना एक कंफर्ट जोन होता है और हमें उसका सम्मान करना चाहिए।

Edited by सावन गुप्ता
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...