विराट कोहली के टेस्ट कप्तानी छोड़ने को लेकर इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

विराट कोहली ने अचानक से कप्तानी छोड़ने का फैसला लिया
विराट कोहली ने अचानक से कप्तानी छोड़ने का फैसला लिया

विराट कोहली (Virat Kohli) के भारतीय टेस्ट टीम (Indian Cricket Team) की कप्तानी छोड़ने की घोषणा के बाद सभी दिग्गजों ने अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दी है। इस क्रम में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान सर एलिस्टेयर कुक का नाम भी शामिल हो गया है। कुक ने भारतीय टीम को दूसरी टीमों की तुलना में बेहतर बनाने के लिए विराट कोहली को सराहा। साथ ही उन्होंने विराट के उस बयान से भी सहमति जताई, जिसमें विराट ने कहा था कि इस काम के लिए बहुत धैर्य और मेहनत की जरूरत थी।

शनिवार की शाम को सोशल मीडिया के माध्यम से विराट कोहली ने इस बात का ऐलान किया कि वह अब भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान नहीं रहेंगे। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के एक दिन बाद ही विराट ने कप्तानी छोड़ने का फैसला लिया।

कुक ने कहा कि विराट कोहली ने 2015 में जब से कमान संभाली, तो उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया है।

मौजूदा भारतीय टीम अपने कप्तान की तरह है - एलिस्टेयर कुक

द टाइम्स के लिए अपने कॉलम में लिखते हुए, कुक का मानना है कि विराट ने भारत के रेड-बॉल कप्तान के रूप में शानदार काम किया है और जीत की मानसिकता डाली है। इस बात पर प्रकाश डालते हुए कि टीम पर उनका रवैया कैसा रहा है, कुक ने लिखा,

33 वर्षीय कोहली सही थे। एक टेस्ट कप्तान होने के लिए कड़ी मेहनत और दृढ़ता की मांग करता है; और, हां, वह अपनी टीम को सही दिशा में ले गए हैं। भारत जून में विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल हार गया लेकिन वे नंबर 1 स्थान पर हैं। इसका काफी हद तक श्रेय विराट की कड़ी मेहनत को जाता है। अगर कभी कोई टीम अपने कप्तान के साँचे में ढली हुई थी, तो यह भारत की टीम है।

विराट कोहली सभी प्रारूपों में अब बतौर खिलाड़ी ही खेलते हुए नजर आएंगे। इससे पहले उन्होंने टी20 की कप्तानी खुद छोड़ी थी, वहीं वनडे की कप्तानी से हटा दिया गया था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar