Create

2 भारतीय खिलाड़ी जो श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में पूरी तरह से फ्लॉप साबित हुए 

भारतीय टीम
भारतीय टीम
reaction-emoji
Prashant Kumar

भारत और श्रीलंका के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज के बाद अब बारी टी20 सीरीज की है। टी20 सीरीज में दोनों टीमों के बीच तीन मुकाबले खेले जाने वाले हैं और सीरीज के सभी मैच आर प्रेमदासा स्टेडियम में ही खेले जाएंगे। भारतीय टीम ने वनडे सीरीज में 2-1 से जीत दर्ज की लेकिन टीम को इतनी आसानी से सीरीज जीत नहीं मिली और श्रीलंका ने भी आखिरी के दो मुकाबलों में भारतीय टीम के सामने कड़ी चुनौती पेश की। आखिरी मुकाबले में श्रीलंका ने जबरदस्त दबाव बनाया और भारत को 3 विकेट से हराकर मैच जीता। ऐसे में श्रीलंका का भी मनोबल बढ़ा हुआ होगा और मेजबान टीम टी 20 में अच्छा करके घरेलू समर्थकों को खुशी मनाने का मौका देना चाहेगी।

प्रमुख खिलाड़ियों की अनुपस्थिति ने भारत ने श्रीलंका दौरे के लिए नई टीम को चुना था और इस टीम के कई खिलाड़ियों को वनडे सीरीज के दौरान खेलने का मौका भी मिला। हालांकि इनमें से कुछ खिलाड़ियों का प्रदर्शन बहुत ही बेहतरीन रहा लेकिन कुछ खिलाड़ियों का प्रदर्शन काफी ज्यादा निराश करने वाला रहा। शायद यही वजह है कि भारत को अपने आखिरी दो वनडे मैचों में काफी ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ा। खासकर टीम की बल्लेबाजी में कई कमजोर कड़ियां उजागर हुईं। इस आर्टिकल में हो हम ऐसे ही दो भारतीय खिलाड़ियों का जिक्र करने जा रहे हैं जिन्होंने श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान पूरी तरह फ्लॉप साबित हुए।

2 भारतीय खिलाड़ी जो श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में पूरी तरह से फ्लॉप साबित हुए

#2 मनीष पांडे

मनीष पांडे
मनीष पांडे

मनीष पांडे को ख़राब प्रदर्शन के कारण कुछ समय पहले ही भारतीय टीम से ड्रॉप किया गया था। हालांकि श्रीलका दौरे पर प्रमुख खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी की वजह से चयनकर्तओं ने मनीष के अनुभव को देखते हुए उन्हें श्रीलंका दौरे के लिए चुना और वनडे सीरीज के तीनों ही मैचों में इन्हें खिलाया गया। तीनों मैचों में खेलने के बावजूद मनीष पांडे कोई बड़ी पारी नहीं खेल पाए और अपने ऊपर दिखाए गए भरोसे को सही साबित करने में नाकाम रहे। पांडे ने 3 मैचों में मात्र 74 रन बनाये और उनका सर्वाधिक स्कोर 37 रन रहा।

#1 हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या
हार्दिक पांड्या

श्रीलंका दौरे के शुरू होने से पहले हार्दिक पांड्या का नाम कप्तानी को लेकर चर्चा में था लेकिन इस खिलाड़ी के श्रीलंका दौरे के प्रदर्शन को देखते हुए शायद इन्हें कप्तान ना बनाये जाने का फैसला सही साबित होता हुआ दिख रहा है। हार्दिक के पास प्रमुख खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में टीम के लिए अपने अनुभव का इस्तेमाल करते हुए अच्छा करने का मौका था लेकिन वह बल्ले और गेंद दोनों से ही नाकाम साबित हुए।

हार्दिक श्रीलंका के खिलाफ बल्ले से तीन मैचों की दो पारियों को मिलाकर कुल 19 रन ही बना पाए। वहीं गेंदबाज के तौर पर उन्होंने किसी भी मैच में 10 ओवर नहीं डाले तथा सीरीज के दौरान 14 ओवर की गेंदबाजी करते हुए मात्र 2 विकेट हासिल कर पाए।

Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...