Create

डब्ल्यू वी रमन को भारतीय महिला टीम के कोच पद से हटाए जाने से नाराज हैं सौरव गांगुली

Nitesh
सौरव गांगुली
सौरव गांगुली

डब्ल्यू वी रमन (WV Raman) को इंडियन वुमेंस टीम (Indian womens team) के हेड कोच पद से हटाए जाने से बीसीसीआई प्रेसिडेंट सौरव गांगुली नाराज (Sourav Ganguly) हैं। क्रिकबज्ज की खबर के मुताबिक सौरव गांगुली डब्ल्यू वी रमन को कोच पद से हटाए जाने से खुश नहीं हैं।

दरअसल मदन लाल की अगुवाई वाली क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी ने डब्ल्यू वी रमन को हटाकर रमेश पोवार को दोबारा इंडियन वुमेंस टीम का कोच बना दिया था। डब्ल्यू वी रमन की कोचिंग में इंडियन टीम ने पिछले साल ऑस्ट्रेलिया में हुए टी20 वर्ल्ड कप में फाइनल तक का सफर तय किया था। इसके बावजूद उन्हें उनके पद से हटा दिया गया।

ये भी पढ़ें: "अगर IPL स्थगित ना हुआ होता तो मैं खुद टूर्नामेंट से अपना नाम वापस लेने वाला था"

सौरव गांगुली ने सीएसी के फैसले पर जताई हैरानी

रिपोर्ट के मुताबिक डब्ल्यू वी रमन को कोच पद से हटाए जाने पर सौरव गांगुली ने निराशा जाहिर की है। वो इस फैसले से हैरान हैं। वहीं बीसीसीआई के स्टेकहोल्डर्स का मानना है कि गांगुली को क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी के फैसले का सम्मान करना चाहिए। इस कमेटी में मदन लाल, आरपी सिंह और सुलक्षणा नाइक मौजूद हैं।

क्रिकबज्ज से बातचीत में बीसीसीआई के एक इन्साइडर ने कहा "गांगुली को पता होना चाहिए कि सीएसी एक स्वतंत्र बॉडी है।"

आपको बता दें कि पूर्व भारतीय स्पिनर रमेश पोवार पहले भी महिला टीम के कोच रहे थे लेकिन सीनियर खिलाड़ियों के साथ तालमेल नहीं होने के कारण अपने पद से इस्तीफ़ा सौंप दिया था। इसके बाद रमन को कोच बनाया गया था लेकिन अब उन्हें हटाकर एक बार फिर से रमेश पोवार को दोबारा कोच बना दिया गया है।

इससे पहले हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन के प्रेसिडेंट और पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद अजहरुद्दीन ने भी डब्ल्यू वी रमन की काफी तारीफ की थी।

ये भी पढ़ें: "जब मैंने अफगानिस्तान का कोच बनने का फैसला किया था तो कई लोगों ने मेरा मजाक उड़ाया था"

Quick Links

Edited by Nitesh
Be the first one to comment