Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

दक्षिण अफ्रीका vs ऑस्ट्रेलिया तीसरे एकदिवसीय के आंकड़ों पर एक नज़र

CONTRIBUTOR
Modified 11 Oct 2018, 14:15 IST
Advertisement
डेविड मिलर और एन्डाइल फेलुक्वायो की तूफानी पारियों की बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया को तीसरे एकदिवसीय मैच में हराकर सीरीज में 3 - 0 की अजय बढ़त बना ली है। इस जीत के साथ ही दक्षिण अफ्रीका एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय में दूसरे सबसे बड़े लक्ष्य को हासिल करने वाली टीम भी बन गयी है। चोटिल होने के बावजूद, डेविड मिलर  (118 नाबाद)  ने शतकीय पारी खेलकर टीम को जीत दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इसके अलावा डेविड मिलर ने सातवें विकेट के लिए एन्डाइल फेलुक्वायो ( 42 नाबाद)  के साथ मिलकर शतकीय साझेदारी भी निभाई। जहाँ दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया के दिए 372 रनों के लक्ष्य को चार गेंद शेष रहते हासिल कर लिया। इस सीरीज में ये पहला मौका था जहाँ ऑस्ट्रेलिया ने बल्ले के साथ अपना कमाल दिखाया था। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से डेविड वॉर्नर ( 117 ) और स्टीवन स्मिथ ( 108 ) ने शानदार शतक जमाए। जिसकी मदद से ऑस्ट्रेलिया 371 रनों का विशाल स्कोर खड़ा करने में कामयाब रहा। 372 रनों के लक्ष्य के जवाब में दक्षिण अफ्रीका की तरफ से डी कॉक और अमला ने अपनी टीम को ठोस शुरुआत दिलाई। हालाँकि इन दोनों में से कोई भी अपनी पारी को शतक में तब्दील नहीं कर सका। इन दोनों के आउट हो जाने के बाद दक्षिण अफ्रीका ने अपने ऊपरी क्रम को एक अन्तराल में खो दिया। लेकिन इसके बाद चोटिल डेविड मिलर के जुझारू और तूफानी शतक की बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने सीरीज में 3 - 0 की अजय बढ़त बना ली। आईये अब नज़र डालते हैं, इस मैच में बने कुछ दिलचस्प आंकड़ों पर-  2 एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय में ये दूसरा मौका है जब किसी टीम ने दूसरे सबसे बड़े लक्ष्य को हासिल किया है। इससे पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय इतिहास में सबसे बड़ा लक्ष्य हासिल करने का रिकॉर्ड भी दक्षिण अफ्रीका के ही पास है। उन्होंने 2006 में जोहान्सबर्ग में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही उनके दिए 435 रनों के लक्ष्य को हासिल किया था। 3 ये एकदिनी मैच में दूसरी पारी में बना तीसरा सबसे बड़ा स्कोर है।  इससे पहले दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 438/9 स्कोर बनाया था।  जो एकदिनी इतिहास में दूसरी पारी में बनाया गया सबसे बड़ा स्कोर है और साथ-साथ किसी भी लक्ष्य को हासिल किया गया सबसे बड़ा स्कोर था। इसके अलावा 2009 में श्रीलंका ने भारत के खिलाफ 411 रन बनाये थे जो दूसरी पारी में दूसरा उच्चतम स्कोर है। 4 एकदिवसीय इतिहास में शीर्ष पांच सबसे सफल रन चेस में से 4 सबसे सफल रन चेस ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हैं। 5
Advertisement
ये पांचवी बार है जब ऑस्ट्रेलिया ने किसी भी एक दिवसीय सीरीज में अपने शुरुआती तीनों मैचों को गंवाया है।  जिनमें से तीन बार इंग्लैंड के खिलाफ हैं। एक बार न्यूज़ीलैंड के और इस बार दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वर्तमान में चल रही एकदिवसीय सीरीज में। 6 मिलर के बल्ले से निकला तूफानी शतक, किसी भी दक्षिण अफ़्रीकी द्वारा बनाया गया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एकदिवसीय इतिहास का सातवा सबसे तेज़ शतक है।  जो मिलर ने 69 गेंदों में ठोका था। इससे पहले डी कॉक ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 74 गेंदों में अपना शतक पूरा किया था। जो इसी सीरीज में उन्होंने बनाया था। 42 एन्डाइल फेलुक्वायो के द्वारा बनाया गया 42 रनों का स्कोर, एकदिनी इतिहास में उनका सबसे बड़ा स्कोर है।  इससे पहले उनका उच्चतम स्कोर 34 नाबाद था। जो उन्होंने लिस्ट A में बनाया था। 96 डेल स्टेन के 10 ओवरों में दिए 96 रन, एक दिवसीय में किसी भी दक्षिण अफ़्रीकी दिए गए उच्चतम रन हैं। इससे पहले पारनेल ने भारत के खिलाफ 10 ओवेरों में 95 रन लुटाए थे। 117 डेविड वॉर्नर के बल्ले से निकले 117 रन, एक दिवसीय इतिहास में  दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ किसी भी ऑस्ट्रेलिया के ओपनर द्वारा बनाया गया सर्वाधिक स्कोर हैं। इससे पहले 1997 में मार्क वॉ ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 115 रनों की पारी खेली थी। 271 इससे पहले इस मैदान पर सबसे सफल रन चेस 271 था। जो ऑस्ट्रेलिया ने 2002 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हासिल किया था। 2000 अब से पहले 2000 में ऐसा मौका आया था। जब एकदिवसीय में ऑस्ट्रेलिया के दो बल्लेबाजों ने एक पारी में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शतक जमाए थे।  उस दिन माइकल बेवन और स्टीव वॉ ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शतक ठोंके थे। अब डेविड वॉर्नर और स्टीवन स्मिथ भी उनकी कतार में शामिल हो गए हैं।       Published 06 Oct 2016, 16:02 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit