श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के नए नियम से खिलाड़ियों की सैलरी कटेगी

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने फिटनेस के लिए पैमाना तय किया है
श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने फिटनेस के लिए पैमाना तय किया है

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों की फिटनेस को लेकर एक नया नियम जारी किया है। इससे खिलाड़ियों का टीम में चयन मुश्किल हो जाएगा। श्रीलंकाई बोर्ड ने फिटनेस के लिए दौड़ का समय निर्धारित किया है। इससे टीम में शामिल होने के लिए मुश्किल होने के साथ ही खिलाड़ियों को अनुबंध में मिलने वाली राशि पर भी असर पड़ेगा।

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने खिलाड़ियों के लिए फिटनेस को अहम मुद्दा मानते हुए 8 मिनट 55 सेकंड में 2 किलोमीटर की दौड़ पूरी करना अनिवार्य किया है। हालंकि पैमाना 8 मिनट और 10 सेकंड का ही है लेकिन 8 मिनट और 55 सेकंड से ज्यादा समय लेने वाले का चयन नहीं होगा। उसी तरह 8 मिनट और 35 सेकंड लेने वाले खिलाड़ी का चयन टीम में हो जाएगा लेकिन बोर्ड खिलाड़ी के सालाना अनुबंध की सैलरी में कटौती करेगा।

इससे पहले श्रीलंकाई बोर्ड खिलाड़ियों की फिटनेस के लिए यो-यो टेस्ट कराता था लेकिन अब इसे हटा दिया गया है। 2 किलोमीटर की दौड़ पूरी करने के लिए अब खिलाड़ियों को समय का ध्यान भी रखना होगा। ऐसे में कहा जा सकता है कि टीम में चयन का रास्ता कठिन हो गया है। खिलाड़ियों को भी इससे फिटनेस के प्रति सजग होने में मदद मिलेगी और वे प्रेरित भी होंगे।

हालांकि यह नियम ज्यादा मुश्किल नहीं है
हालांकि यह नियम ज्यादा मुश्किल नहीं है

उल्लेखनीय है कि इस साल श्रीलंकाई बोर्ड और खिलाड़ियों के बीच अनुबंध को लेकर विवाद हुआ था। बोर्ड के अनुबंध से खिलाड़ी सहमत नहीं थे और इसे स्वीकार करने से भी मना कर दिया था। इसके बाद श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने सीरीज के आधार पर अनुबंध किया। हर सीरीज में खिलाड़ियों को अनुबंध मिलने लगा। बाद में सहमति होने के बाद अनुबंध का रास्ता साफ़ हुआ और इसे लागू किया गया। देखना होगा कि फिटनेस के नियम से टीम के खिलाड़ियों का रुख क्या रहेगा। हालांकि मेहनत करने से फिटनेस का यह लक्ष्य आसानी से हासिल किया जा सकता है।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment