श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड का फैसला, छह नए स्टेडियम बनेंगे

पल्लेकेले स्टेडियम
पल्लेकेले स्टेडियम

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने अपने देश में क्रिकेट को विकसित करने के लिए एक बड़ा फैसला लिया है। श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने छह नए स्टेडियम बनाने का फैसला लिया है। श्रीलंका में क्रिकेट का और ज्यादा विकास करने के लिए नए स्टेडियम का निर्माण करने का निर्णय लिया गया है। श्रीलंका में जिन स्थानों पर स्टेडियम नहीं हैं, वहां नए स्टेडियम तैयार होंगे।

एक रिपोर्ट के अनुसार जमीनी स्तर पर श्रीलंका में क्रिकेट का विकास करने के के लिए श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने इस परियोजना पर काम करने का फैसला लिया है। खेल में कम विकसित हिस्सों में निवेश करने के कदम पर श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड की कार्य समिति ने भी सहमति जताई है।

यह भी पढ़ें: इशांत शर्मा को लेकर डैरेन सैमी की बड़ी प्रतिक्रिया

श्रीलंका के कोलम्बो में सबसे ज्यादा स्टेडियम

श्रीलंका की राजधानी कोलम्बो वेस्टर्न प्रोविंस के अंतर्गत आता है। इसमें कुल चार स्टेडियम हैं। आर प्रेमदासा स्टेडियम और सिंहलीज स्पोर्ट्स क्लब इनमें मुख्य हैं। श्रीलंका में कुल दस अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हैं। हालांकि सभी पर मुकाबले नहीं खेले जाते। कई स्टेडियम ऐसे हैं जिनकी दर्शक क्षमता महज 10 हजार है। कोलम्बो क्रिकेट क्लब स्टेडियम की दर्शक क्षमता छह हजार की है।

आर प्रेमदासा स्टेडियम
आर प्रेमदासा स्टेडियम

श्रीलंका के मैदानों पर बल्लेबाजों के लिए ज्यादा मदद नहीं होती लेकिन गेंदबाजों को यहाँ ख़ासा सफल होते देखा गया है। वहां की मिट्टी और मौसम की वजह से शायद ऐसा होता होगा। एक समय ऐसा था जब वनडे क्रिकेट में वहां 220 से 230 रन का स्कोर भी काफी माना जाता था। हालांकि टी20 क्रिकेट के आने से कम स्कोर की परम्परा में बदलाव आया है।

श्रीलंका की टीम 2015 के बाद से लगातार कमजोर हुई है। ख़ास कारण पुराने खिलाड़ियों का संन्यास लेना भी हो सकता है। कुमार संगकारा और महेला जयवर्धने के समय टीम बहुत मजबूत थी। इस समय श्रीलंका की टीम बदलाव के दौर से गुजर रही है इसलिए पहले जितनी मजबूती अभी दिखाई नहीं देती। फिर से उसी लय में आने के लिए उन्हें समय लगेगा।

Quick Links

App download animated image Get the free App now