Create

श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने बोर्ड को दी संन्यास लेने की धमकी, वजह भी चौंकाने वाली है

पिछले कुछ साल श्रीलंकाई क्रिकेट (SLC) के लिए कठिन रहे हैं क्योंकि उन्होंने सभी प्रारूपों में संघर्ष किया और एक के बाद एक श्रृंखला हारे। वास्तव में श्रीलंका (Sri Lanka) ने पिछले पांच वर्षों में नौ एकदिवसीय कप्तानों को बदल दिया, जिसमें कुसल परेरा नवीनतम कप्तान हैं। अब श्रीलंका क्रिकेट को एक और समस्या का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि उनके कई खिलाड़ी नई ग्रेडिंग प्रणाली से खुश नहीं हैं। श्रीलंका में क्रिकेटरों ने कथित तौर पर श्रीलंका क्रिकेट को धमकी दी है कि वे एक नई अंक-आधारित ग्रेडिंग प्रणाली शुरू होने के बाद समय से पहले ही संन्यास ले लेंगे। यह ग्रेडिंग प्रणाली उनके वार्षिक वेतन का निर्धारण करेगी।

नई व्यवस्था से खिलाड़ियों की कमाई पर बड़ा असर पड़ेगा, ऐसे में खिलाड़ियों ने और अधिक पारदर्शिता की मांग की है कि उन्हें किस आधार पर ग्रेड दिया जा रहा है।

श्रीलंकाई खिलाड़ी चाहते हैं पारदर्शिता

एक रिपोर्ट के अनुसार नई प्रणाली में खिलाड़ियों को उनकी फिटनेस, अनुशासन, पिछले कुछ वर्षों में अंतरराष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट में प्रदर्शन के आधार पर चार अलग-अलग समूहों में वर्गीकृत किया जाएगा। खिलाड़ियों को विभाजित करते समय नेतृत्व कौशल और टीम के लिए समग्र मूल्य भी एक बेंचमार्क होगा।

श्रीलंकाई क्रिकेटर चाहते हैं कि बोर्ड यह बताए कि अंक कैसे आवंटित किए जाते हैं ताकि वे प्रक्रिया को समझ सकें और अपने कौशल पर उसी के अनुसार काम कर सकें। खिलाड़ी चाहते हैं कि रेटिंग की प्रक्रिया को जानने के वे हक़दार हैं।

श्रीलंका की राष्ट्रीय टीम इस समय तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला के लिए बांग्लादेश में है। पूर्णकालिक एकदिवसीय कप्तान के रूप में कुसल परेरा का यह पहला दौरा होग और वह एक छाप छोड़ना चाहेंगे। यहसीरीज 23 मई से शुरू हो रही है। श्रीलंकाई खिलाड़ी इस समय बांग्लादेश में तीन दिवसीय क्वारंटीन प्रक्रिया से गुजर रही है। देखना होगा कि ग्रेड सिस्टम में आगे क्या होता है।

Quick Links

Edited by निरंजन
Be the first one to comment