श्रीलंका को पहले T20I में एंजेलो मैथ्यूज ने दिलाई जबरदस्त जीत, ज़िम्बाब्वे के खिलाफ आखिरी ओवर में रोमांच की हदें पार  

(Photo Courtesy: Sri Lanka Cricket)
(Photo Courtesy: Sri Lanka Cricket)

कोलंबो में खेले गए पहले T20I में श्रीलंका ने ज़िम्बाब्वे (Sri Lanka vs Zimbabwe) के खिलाफ आखिरी गेंद पर 3 विकेट से रोमांचक जीत दर्ज की और तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई। पहले खेलते हुए ज़िम्बाब्वे ने 20 ओवर में 143/5 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में श्रीलंका ने पूरे ओवर खेलकर 144/7 का स्कोर बनाया। श्रीलंका के अनुभवी ऑलराउंडर एंजेलो मैथ्यूज (38 गेंद 46) ने लगभग तीन साल बाद सबसे छोटे फॉर्मेट में वापसी की और शानदार बल्लेबाजी प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच बने।

टॉस हारकर ज़िम्बाब्वे को पहले बल्लेबाजी करनी पड़ी और ओपनिंग बल्लेबाजों ने 37 रन जोड़े। टीम को पहला झटका छठे ओवर में लगा और ओपनर टी कामुनहुकाम्वे 18 गेंदों में 26 रन बनाकर आउट हुए। इसी ओवर में दूसरे ओपनर क्रेग एर्विन भी 10 के निजी स्कोर पर आउट हो गए। सीन विलियम्स ने 14 रन बनाये और 14वें ओवर में 83 के स्कोर पर चलते बने। दूसरे छोर से कप्तान सिकंदर रजा जमे रहे और रयान बर्ल के साथ मिलकर स्कोर को 100 के पार ले गए।

बर्ल 5 रन बनाकर 103 के स्कोर पर आउट हो गए लेकिन रजा ने अर्धशतक जड़ा और 42 गेंदों में 62 रनों की पारी खेली। वह 129 के स्कोर पर 19वें ओवर में आउट हुए। ब्रायन बेनेट 10 और ल्यूक जोंग्वे 13 रन बनाकर नाबाद रहे और स्कोर को 140 के पार ले गए। श्रीलंका की तरफ से कप्तान वानिन्दु हसरंगा और महीश तीक्षणा ने दो-दो विकेट लिए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंकाई टीम को पहले ही ओवर में झटका लगा और ओपनर पैथुम निसांका 2 रन बनाकर चलते बने। कुसल परेरा 17 रन बनाकर 32 और कुसल मेंडिस भी 17 रन बनाकर 38 के स्कोर पर पवेलियन लौट गए। सदीरा समरविक्रमा (9) और चरिथ असलंका (16) भी सस्ते में निपट गए। वहीं, वानिन्दु हसरंगा खाता भी नहीं खोल पाए और 14वें ओवर में 83 के स्कोर पर छठे विकेट के रूप में आउट हो गए।

यहाँ से एंजेलो मैथ्यूज (46) और दसुन शनाका (26*) की जोड़ी ने मोर्चा संभाला और अपनी टीम को जीत के करीब ला दिया। आखिरी ओवर में श्रीलंका को जीत के लिए 14 रन बनाने थे। पहली तीन गेंदों में दो चौके की मदद से मैथ्यूज ने 8 रन बटोरे लेकिन चौथी गेंद पर आउट हो गए। इस तरह सातवें विकेट के लिए 55 रनों की साझेदारी का अंत हुआ। अब बल्लेबाजी के लिए दुश्मंथा चमीरा आये और उन्होंने आखिरी दो गेंदों में एक चौके की मदद से 6 रन बनाकर अपनी टीम को जीत दिला दी। ज़िम्बाब्वे की तरफ से सिकंदर रजा ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar