मुस्ताफ़िज़ुर रहमान को लय में वापस लाने के लिए इन दो भारतीय ने निभाई अहम भूमिका, गेंदबाजी कोच ने किया बड़ा खुलासा 

मुस्ताफिजुर रहमान - बांग्लादेश क्रिकेट टीम (Image Credit - ICC Cricket)
मुस्ताफिजुर रहमान - बांग्लादेश क्रिकेट टीम (Image Credit - ICC Cricket)

बांग्लादेश के तेज गेंदबाजी कोच एलन डोनाल्ड (Allan Donald) ने संघर्ष कर रहे तेज गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहमान (Mustafizur Rahman) को भारत के खिलाफ वनडे सीरीज जीतने में अहम भूमिका निभाने का श्रेय श्रीधरन श्रीराम और श्रीनिवास चंद्रशेखरन को दिया है।

भारत के श्रीराम और श्रीनिवास इस वक्त क्रमशः बांग्लादेश के टी20 कोच और परफॉरमेंस एनालिस्ट हैं। इस भारतीय जोड़ी ने मुस्ताफिजुर रहमान की गलतियों को पहचाना और उसमें सुधार करने का काम किया।

डोनाल्ड ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो को बताया, "श्रीराम और श्रीनिवास ने देखा कि उनकी धीमी गेंदों के रिलीज प्वाउंट पर उनकी हथेली बल्लेबाज की तरफ रहती थी। इसे और अधिक साइड-ऑन करने की आवश्यकता थी ताकि हथेली उनके रिलीज पॉइंट पर ऑफ साइड की तरफ रहे। उन्होंने इसकी प्रैक्टिस करने के लिए बहुत सारे ओवर्स किए। इसके अलावा रहमान ने सॉलिड यॉर्कर मारने के लिए भी काफी मेहनत की है।"

27 वर्षीय मुस्ताफिजुर रहमान इस वक्त बांग्लादेश की पेस बैटरी में सबसे अनुभवी हैं और इसलिए उन पर हमेशा अच्छा प्रदर्शन करने का दवाब रहा है।

डोनाल्ड ने रहमान के बारे में कहा, "वह एक क्लास एक्ट है। जब हमें रोहित शर्मा के रूप में एक विश्व स्तरीय खिलाड़ी के खिलाफ किसी शानदार गेंदबाज की जरूरत थी, तब मुस्ताफिजुर रहमान अपनी कड़ी मेहनत से एक बढ़िया यॉर्कर गेंद लेकर आए, जिसका फायदा भी हुआ और हमने सीरीज भी जीती।"

बांग्लादेशी गेंदबाजों के लिए सबसे अच्छा रहा यह साल

डोनाल्ड बांग्लादेशी टीम के साथ मार्च में जुड़े हैं और सालों तक स्पिनर्स पर निर्भर रहने वाली इस टीम में उन्होंने पहली बार फास्ट बॉलिंग को बेहतर होते हुए देखा है।

बांग्लादेश की फास्ट बॉलिंग में सुधार की शुरुआत पूर्व कोच कर्टनी वॉल्श और ओटिस गिब्सन के टाइम से ही शुरू हो गई थी। अब एलन डोनाल्ड उसे और बेहतर करने की कोशिश कर रहे हैं। इस साल बांग्लादेश के गेंदबाजों ने 167 विकेट हासिल किए हैं। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी के लिहाज से बांग्लादेशी टीम के लिए यह साल सबसे अच्छा रहा है।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment