चेतेश्वर पुजारा के बचाव में उतरा पूर्व भारतीय दिग्गज खिलाड़ी

India v England - 4th Test: Day Two
India v England - 4th Test: Day Two

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले में खराब प्रदर्शन करने वाले भारतीय टेस्ट स्पेशलिस्ट बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) को दिग्गज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) का समर्थन मिला है। गावस्कर ने पुजारा का बचाव करते हुए कहा कि बल्लेबाजी के लिए परिस्थितियां आसान नहीं थी। पुजारा ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले की दोनों पारियों में 8 और 15 का स्कोर बनाया था। इस बड़े मैच में भारत के अन्य बल्लेबाजों ने भी निराश किया और इसी वजह से टीम को फाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों आठ विकेट से हार का सामना करना पड़ा। ऐसे में जहां पुजारा की हर तरफ आलोचना हो रही है, उनके बचाव में सुनील गावस्कर उतर आये हैं।

पूर्व दिग्गज ओपनर सुनील गावस्कर ने इंडिया टुडे से बातचीत में कहा कि हमें यह याद रखना चाहिए कि न्यूजीलैंड ने किस तरह से बल्लेबाजी की। परिस्थतियां बल्लेबाजी के मुताबिक नहीं थी और गेंदबाजों के लिए मददगार थी। जिस तरह से कॉनवे, विलियमसन ने दोनों पारियों में बल्लेबाजी की।

पुजारा विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में भारत के लिए काफी अहम बल्लेबाज थे और उन्होंने कई मौकों पर एक छोर थामे भी रखा। हालांकि पिछले कुछ समय से इस बल्लेबाज के बल्ले से बड़ी पारी नहीं देखने को मिली है और इन्होंने पिछले दो सालों से एक भी टेस्ट शतक नहीं लगाया।

गावस्कर ने आगे बात करते हुए कहा कि जिस तरह से रॉस टेलर ने भी धीमी शुरुआत के बाद बल्लेबाजी की, हमें यह याद रखना चाहिए। उन्होंने भी पुजारा की तरह बल्लेबाजी की, धीमी शुरुआत लेकिन अगर आप केवल पुजारा पर ही उंगलियां उठाना चाहते हैं तो हम कुछ नहीं कह सकते। पुजारा एक छोर संभाले रखते हैं और इसी वजह से दूसरे बल्लेबाजों को स्ट्रोक खेलने की आजादी मिलती है।

विराट कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में दिए बदलाव के संकेत

भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में हार के बाद इंग्लैंड के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज में प्लेइंग XI में बदलाव के संकेत दिए थे। कोहली ने कहा था कि हम अपने प्रदर्शन पर चिंतन करेंगे और टीम में ऐसे लोगों को लाएंगे जिनके पास अच्छा प्रदर्शन करने की मानसिकता हो।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma