Create

"मैं ऋषभ पंत को भारत के अगले कप्तान के तौर पर देखूंगा", दिग्गज खिलाड़ी ने दिया बड़ा बयान  

ऋषभ पंत टेस्ट टीम का अहम हिस्सा हैं
ऋषभ पंत टेस्ट टीम का अहम हिस्सा हैं
reaction-emoji
Prashant Kumar

15 जनवरी की शाम विराट कोहली (Virat Kohli) की एक घोषणा ने पूरे क्रिकेट जगत में हलचल मचा दी। कोहली ने सोशल मीडिया के माध्यम से ऐलान किया कि वह अब टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ रहे हैं। विराट के कप्तानी छोड़ने के बाद सबके मन में भारत के अगले टेस्ट कप्तान को लेकर सवाल उठ रहे हैं। इस बीच दिग्गज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) की भी प्रतिक्रिया आई है, जिनका मानना है कि टेस्ट कप्तान के लिए ऋषभ पंत (Rishabh Pant) एक सही दावेदार होंगे।

ऋषभ पंत की बात की जाये तो वह भारत के लिए तीनों ही प्रारूप खेलते हैं और अभी तक के अपने करियर में, उन्होंने कई जबरदस्त कारनामे किये हैं। वहीं कप्तान के तौर पर, उन्होंने आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स के लिए अच्छा काम किया था। हालांकि पंत के सामने रोहित शर्मा और केएल राहुल जैसे दावेदार भी होंगे, जिनको पीछे छोड़ना आसान नहीं होगा।

जिम्मेदारी मिलने पर ऋषभ पंत और अच्छा करेंगे - सुनील गावस्कर

भारत के पूर्व कप्तान गावस्कर चाहते हैं कि चयनकर्ता पंत को अगला कप्तान बनाए और मुंबई इंडियंस के लिए रोहित के बेहतरीन उदाहरण के साथ इसका कारण बताया। जब से रोहित ने 2013 में मुंबई के लिए कप्तानी संभाली, तब से उन्होंने पांच आईपीएल खिताब जीते हैं और टूर्नामेंट के इतिहास में अब तक के सबसे सफल कप्तान हैं। गावस्कर ने यह भी कहा कि अगर उन्हें जिम्मेदारी दी जाती है तो पंत और भी बड़ी पारियां खेल सकेंगे।

इंडिया टुडे के साथ खास बातचीत में उन्होंने कहा,

यदि आप मुझसे पूछें, तो मैं अभी भी ऋषभ पंत को भारत के अगले कप्तान के रूप में देखूंगा। एक ही वजह से जैसे रोहित शर्मा को मुंबई इंडियंस की कप्तानी दी गई थी, जब रिकी पोंटिंग ने पद छोड़ा था, उसके बाद उनकी बल्लेबाजी में आए बदलाव को देखिए। अचानक कप्तान होने की जिम्मेदारी ने उन्हें छोटी पारियों को बड़ी पारियों में तब्दील करने में मदद की।
मुझे लगता है कि ऋषभ पंत पर जिम्मेदारी आने पर, उनसे न्यूलैंड्स की तरह कई और बेहतरीन पारियां देखने को मिलेंगी।

गावस्कर ने पूर्व भारतीय कप्तान मंसूर अली खान पटौदी का उदाहरण दिया, जिन्होंने 21 वर्ष की उम्र में कप्तानी संभाली और कामयाबी हासिल की थी। उन्होंने कहा,

हां, मैं ऐसा कह रहा हूं। टाइगर पटौदी 21 साल की उम्र में प्रतिकूल परिस्थितियों में कप्तान थे जब नारी कांट्रेक्टर चोटिल हो गए थे। देखिए उन्होंने उसके बाद क्या किया। उन्होंने आसानी से कप्तानी की। मुझे लगता है कि हमने आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान के रूप में ऋषभ पंत के साथ जो देखा है, मुझे विश्वास है कि उनमें भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने और एक बहुत ही रोमांचक टीम बनाने की क्षमता है।

Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...