IND vs AUS: 'हमने जैसे वापसी की, वो शानदार रहा', भारत की धमाकेदार जीत के बाद कप्‍तान सूर्यकुमार यादव ने दिया बड़ा बयान

India Australia Cricket
सूर्यकुमार यादव को शानदार पारी खेलने के लिए प्‍लेयर ऑफ द मैच चुना गया

भारतीय टीम (India Cricket Team) ने ऑस्‍ट्रेलिया (Australia Cricket Team) के खिलाफ गुरुवार से शुरू हुई पांच टी20 इंटरनेशनल मैचों की सीरीज का विजयी आगाज किया। विशाखापट्टनम में खेले गए पहले टी20 को भारत ने 1 गेंद शेष रहते दो विकेट से अपने नाम किया। ऑस्‍ट्रेलिया ने पहले बल्‍लेबाजी की और 20 ओवर में तीन विकेट खोकर 208 रन बनाए। जवाब में भारत ने 19.5 ओवर में आठ विकेट खोकर लक्ष्‍य हासिल किया।

भारतीय टीम की जीत के बाद कप्‍तान सर्यकुमार यादव ने कहा, 'लड़कों ने जिस तरह मैदान पर अपनी प्रतिभा दिखाई, उससे बहुत खुश हूं। हमें दबाव में डाला गया, लेकिन जिस तरह सभी ने वापसी की वो शानदार रही।'

सूर्या ने अपनी कप्‍तानी के बारे में बात करते हुए कहा, 'यह गर्व वाला पल है। जब भी आप क्रिकेट खेलते हैं तो भारत का प्रतिनिधित्‍व करने के बारे में सोचते हैं। यह कुछ समय लेता है, लेकिन बहुत गर्व की बात है।'

यह पूछने पर कि ऑस्‍ट्रेलिया की पारी समाप्‍त होने के बाद क्‍या विचार थे तो सूर्यकुमार यादव ने कहा, 'मुझे बस इतना लगा था कि कुछ ओस होगी, लेकिन नहीं थी। मुझे पता था कि मैदान छोटा है। हमें लगा था कि हम 230 रन के लक्ष्‍य का पीछा करेंगे, लेकिन गेंदबाजों ने हमारी वापसी कराई। हम बस सकारात्‍मक बने रहना चाहते थे।'

सूर्या ने अपनी बल्‍लेबाजी के बारे में बात करते हुए कहा, 'बस आनंद उठाया और खुद को अभिव्‍यक्‍त किया। मैंने किशन को एक बात कही थी कि बस बल्‍लेबाजी करते रहना, स्‍कोर के बारे में नहीं सोचना। 10 ओवर के बाद बनी-बनाई स्थिति थी। हमें पता था कि बाद में क्‍या होना है। मैंने अपनी कप्‍तानी का भार ड्रेस‍िंग रूम में छोड़ दिया था। मैंने बस अपनी बल्‍लेबाजी का आनंद उठाया। हमें मैदान में दर्शकों का भरपूर समर्थन मिला।'

सूर्यकुमार यादव ने रिंकू सिंह की तारीफ करते हुए कहा, 'मैंने आउट होने के बाद कहा था कि मैच ज्‍यादा अंत तक मत खींचना। रिंकू सिंह के लिए बनी-बनाई स्थिति थी। उनकी शांति ने मुझे भी राहत पहुंचाई थी। लड़कों ने जिस तरह का प्रदर्शन किया, वो शानदार रहा। हमारे तीनों तेज गेंदबाजों ने 16वें ओवर के बाद हमारी वापसी कराई, जो शानदार रहा।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar