Create

3 भारतीय खिलाड़ी जो वॉर्म अप मैचों में अच्छा प्रदर्शन करते हुए प्लेइंग XI में अपनी जगह को पक्की कर सकते हैं

भारतीय टीम को सुपर 12 से पहले दो वॉर्म अप मैच खेलने वाले हैं (फोटो: BCCI)
भारतीय टीम को सुपर 12 से पहले दो वॉर्म अप मैच खेलने वाले हैं (फोटो: BCCI)

टी20 वर्ल्ड कप 2021 (T20 World Cup) में भारतीय टीम (Indian Team) का पहला मैच पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ 24 अक्टूबर को होने वाला है। भारतीय टीम को पाकिस्तान के बाद 4 मुकाबले और सुपर 12 में खेलने हैं।

भारत ने 2007 T20 वर्ल्ड कप के बाद से खिताब को नहीं जीता है और उनकी नजर इस साल चैंपियनशिप के सूखे को खत्म करने पर होगी। सुपर 12 के मैचों से पहले भारतीय टीम को अपनी तैयारी को पुख्ता करने के लिए दो वॉर्म अप मैच भी खेलने हैं।

भारत को 18 अक्टूबर को इंग्लैंड और 20 अक्टूबर को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो वॉर्म अप मैच खेलने वाले हैं। इस समय ऐसे कई भारतीय खिलाड़ी हैं जोकि प्लेइंग XI में अपनी जगह को पक्की करना चाहते हैं।

#) भुवनेश्वर कुमार

भुवनेश्वर कुमार नई गेंद और अंतिम ओवरों में घातक साबित हो सकते हैं
भुवनेश्वर कुमार नई गेंद और अंतिम ओवरों में घातक साबित हो सकते हैं

भारतीय टीम के मुख्य तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की फॉर्म को लेकर काफी सवाल उठे हैं। हालांकि भुवनेश्वर कुमार के पास अनुभव की कोई कमी नहीं है और निश्चित ही वो दो वॉर्म अप मुकाबलों में अच्छा प्रदर्शन करना चाहेंगे। भुवी ना सिर्फ नई गेंद को स्विंग कराने की काबिलियत रखते हैं, बल्कि वो अंतिम ओवरों में भी अच्छी गेंदबाजी करते हैं।

इसी वजह से अगर भुवी दोनों वॉर्म अप मैचों में अच्छा करते हैं, तो निश्चित ही वो अपनी जगह को प्लेइंग XI में पक्की कर सकते हैं। भुवनेश्वर कुमार का अनुभव भारतीय टीम के काफी काम आ सकता है और अगर भारत को अगर T20 वर्ल्ड कप जीतना है तो भुवनेश्वर का अच्छा करना काफी जरूरी रहेगा।

#) रविचंद्रन अश्विन

भारत की टी20 टीम में रविचंद्रन अश्विन की चार साल बाद वापसी हुई है। हालांकि हाल ही में खत्म हुए IPL में उनका प्रदर्शन कुछ ज्यादा खास नहीं रहा था और उन्हें ज्यादा विकेट नहीं मिले। अश्विन के पास अनुभव की कोई कमी नहीं है, लेकिन इसके बावजूद अभी उनकी प्लेइंग XI में जगह पक्की नहीं है।

इसी वजह से रवि अश्विन वॉर्म अप मैचों का पूरी तरह से फायदा उठाना चाहेंगे और उनकी नजर ज्यादा से ज्यादा विकेट चटकाने पर होगी। अश्विन अगर अच्छा करते हैं, तो निश्चित ही उन्हें प्लेइंग XI में मौका मिल सकता है।

#) इशान किशन

युवा भारतीय बल्लेबाज इशान किशन को तूफानी पारी खेलने के लिए जाना जाता है। हालांकि IPL में उन्होंने मध्यक्रम में रहते हुए कुछ खास नहीं किया, लेकिन ओपनिंग करते हुए दो जबरदस्त पारी खेलते हुए अपनी टीम को जीत जरूर दिलाई। भारतीय प्लेइंग XI में किशन के लिए मौजूदा समय में ओपन करना मुश्किल है।

इसी वजह से किशन को वॉर्म अप मैचों का फायदा उठाते हुए शानदार पारियां खेलनी होगी। अगर वो ऐसा करने में कामयाब होते हैं, तो वो मध्यक्रम में भारतीय टीम को काफी मजबूती दे सकते हैं। किशन के लिए यह मुकाबले काफी ज्यादा अहम होने वाले हैं।

Quick Links

Edited by Narender
Be the first one to comment