राशिद खान को SA के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबले से पहले लगा झटका, ICC ने लिया कड़ा एक्शन; बड़ी वजह आई सामने

West Indies v Afghanistan - ICC Men
West Indies v Afghanistan - ICC Men's T20 Cricket World Cup West Indies & USA 2024

Rashid Khan guilty of breaching ICC Code of Conduct: टी20 वर्ल्ड कप 2024 (T20 World Cup 2024) में अपने प्रदर्शन से इतिहास रच रही अफगानिस्तान टीम सेमीफाइनल मुकाबले की तैयारी में जुटी हुई है, जो उसे भारतीय समयानुसार 27 जून की सुबह 6 बजे दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलना है। इस मुकाबले से पहले अफगानिस्तान के कप्तान राशिद खान को आईसीसी ने झटका दिया है, जो बांग्लादेश के खिलाफ सुपर 8 मैच में कोड ऑफ कंडक्ट उल्लंघन के मामले में दोषी पाए गए हैं। इसी वजह से आईसीसी ने राशिद को फटकार लगाई है और उनके खाते में एक डिमेरिट अंक भी जुड़ गया है।

राशिद खान ने करीम जनत की वजह से गुस्से में फेंका था अपना बल्ला

दरअसल, सेंट विन्सेंट में बांग्लादेश के खिलाफ मुकाबले में अफगानिस्तान टीम ज्यादा रन नहीं बना पाई थी और आखिरी के ओवरों में बल्लेबाजी करने आए राशिद खान ज्यादा से ज्यादा गेंद खेलकर अपनी टीम के स्कोर में इजाफा करना चाहते थे। इसी प्रयास में उन्होंने पारी के आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर बड़ा शॉट खेलना चाहा लेकिन गेंद का बल्ले से सही सम्पर्क नहीं हुआ और हवा में कवर के ऊपर से गई। इसका फायदा उठाते हुए राशिद ने पहला रन तेजी से लिया और वह दूसरे रन के लिए भी आधी पिच पर पहुंच गए थे लेकिन करीम जनत ने अपनी क्रीज नहीं छोड़ी और अपने कप्तान को वापस जाने को कहा। इसी वजह से राशिद ने गुस्से में ही अपना बल्ला बीच में फेंक दिया, जिसे उठाकर करीम उन्हें वापस देने आए थे।

अफगानिस्तानी कप्तान को पाया गया लेवल 1 का दोषी

अपने साथी खिलाड़ी की तरफ बल्ला फेंकने की वजह से ही राशिद खान को आईसीसी आचार संहिता के लेवल 1 के उल्लंघन का दोषी पाया गया। उन्होंने अनुच्छेद 2.9 का उल्लंघन किया जो अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान किसी खिलाड़ी पर या उसके पास अनुचित या खतरनाक तरीके से गेंद या अन्य क्रिकेट उपकरण फेंकने' से संबंधित है।

राशिद ने अपना अपराध और आईसीसी मैच रैफरी रिची रिचर्डसन द्वारा प्रस्तावित सजा स्वीकार कर ली है इसलिए औपचारिक सुनवाई की जरूरत नहीं पड़ी। उनके ऊपर मैदानी अंपायर नितिन मेनन और लैंगटोन रूसेरे, थर्ड अंपायर एड्रियन होल्डस्टॉक और चौथे अंपायर अहसान रजा ने आरोप लगाए।

गौरतलब हो कि लेवल 1 के उल्लंघन के मामले में न्यूनतम सजा आधिकारिक फटकार जबकि अधिकतम सजा खिलाड़ी की मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना है। हालांकि, राशिद को केवल फटकार लगी और 24 महीने में पहली बार गलती होने के कारण एक ही डिमेरिट अंक मिला।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now