टी20 वर्ल्ड कप इंग्लैंड शेड्यूल

Last Modified Nov 15, 2022 17:18 IST



अक्टूबर और नवंबर में होने वाले टूर्नामेंट के लिए इंग्लैंड टी 20 विश्व कप जीतने के लिए पसंदीदा टीम में से एक है। 2021 संस्करण में अपने ग्रुप के सारे मैच जीतने के बाद, इंग्लैंड को अबू धाबी में सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड द्वारा पांच विकेट से हार के साथ बाहर कर दिया गया था। उस टूर्नामेंट और रैंकिंग में उनके प्रदर्शन का मतलब है कि इंग्लैंड 2022 फाइनल के सुपर 12 चरण के लिए स्वचालित रूप से योग्य है।2007 के पहले आईसीसी टी20 संस्करण से खेल रही इंग्लैंड की टीम ने 2010 में फाइनल जीतकर टी20 विश्व कप का खिताब पहली बार अपने नाम किया था। सिडनी में श्रीलंका के खिलाफ आखिरी ओवर में जीत के बाद जोस बटलर की इंग्लैंड टीम टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंच गई है।


इंग्लैंड गुरुवार को एडिलेड में विश्व कप सेमीफाइनल में ग्रुप 2 के विजेता से भिड़ेगा। संभावित प्रतिद्वंद्वी भारत हैं, जो रविवार को जिम्बाब्वे को हराकर ग्रुप में शीर्ष पर पहुंच जाएंगे।इंग्लैंड ने अभी तक टी ट्वेंटी वर्ल्ड कप में कुल 43 मैच खेले हैं जिसमें 22 मैच में जीत हासिल की है जबकि 20 मैचों में हार मिली है. वहीं अभी तक टी ट्वेंटी वर्ल्ड कप के 8 सीजन खेले गये हैं जिसमें 2010 का सीजन इंग्लैंड नें ऑस्ट्रेलिया को हराकर अपने नाम किया था।



टी20 विश्व कप 2022 इंगलैंड शेड्यूल


तारीखविपक्षीआंकड़ेस्टेडियम
बुधवार, 22 अक्टूबर अफगानिस्तान7 विकेट से जीतपर्थ, ऑस्ट्रेलिया
बुधवार, 26 अक्टूबर आयरलैंड 5 रनों से हार (dls method)एमसीजी, ऑस्ट्रेलिया
शुक्रवार, 28 अक्टूबरऑस्ट्रलियाकोई परीणाम नहीं एमसीजी, ऑस्ट्रेलिया
मंगलवार, 1 नवम्बर न्यू जीलैंड20 रनों से जीतब्रिस्बेन, ऑस्ट्रेलिया
शनिवार, 5 नवम्बर श्री लंका4 विकेट से जीतएससीजी, ऑस्ट्रेलिया


आईसीसी टी20 विश्व कप 2010 फाइनल इंग्लैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया


इंग्लैंड 2010 में टी20 विश्व कप जीतने वाली पहली गैर-एशियाई टीम बनी। इंग्लैंड ने फाइनल में एशेज के प्रतिद्वंद्वी ऑस्ट्रेलिया को हराया। इंग्लिश टीम अपने पहले गेम में वेस्टइंडीज से हार गई थी, लेकिन उन्होंने बाकी सभी गेम जीते और ट्रॉफी पर कब्जा कर लिया।


2010 आईसीसी विश्व टी 20 फाइनल 16 मई 2010 को ब्रिजटाउन, बारबाडोस में केंसिंग्टन ओवल में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया था। यह तीसरा आईसीसी विश्व ट्वेंटी 20 था। इंग्लैंड ने 7 विकेट से मैच जीता। 2007 में भारत और 2009 में पाकिस्तान के बाद इंग्लैंड यह खिताब जीतने वाली तीसरी टीम बन गई।


इस मैच से पहले इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया ने ट्वेंटी-20 में चार बार एक-दूसरे के खिलाफ खेला था, जहां ऑस्ट्रेलिया ने 2 मैच जीते और इंग्लैंड ने एक जीता। एक मैच बिना किसी नतीजे के समाप्त हुआ। उनकी सबसे हालिया मुलाकात अगस्त 2009 में हुई थी, जहां मैच का कोई नतीजा नहीं निकला। 2007 आईसीसी विश्व ट्वेंटी 20 में, वे 14 सितंबर को केप टाउन में मिले, जहां ऑस्ट्रेलिया ने 8 विकेट से मैच जीता।


इंग्लैंड के कप्तान कॉलिंगवुड ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फैसला किया। ऑस्ट्रेलिया ने आश्चर्यजनक रूप से मैच की शुरुआत की। दोनों सलामी बल्लेबाजों सिर्फ 2 रन जोड़कर पवेलियन लौट गए, वॉटसन को स्वान द्वारा आउट किया गया तो वहीँ साथी सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर भी जल्द ही रन आउट हो गए।


साइडबॉटम ने ऑस्ट्रेलिया के विकेटकीपर ब्रैड हैडिन को कॉलिंगवुड के हाथों कैच कराकर ऑस्ट्रेलिया का तीसरा विकेट महज 8 रन पर गिरा दिया। कप्तान क्लार्क ने डेविड हसी के साथ पारी को गति देने की कोशिश की पर वो भी कॉलिंगवुड के हांथों स्वान के ऑफ-स्पिन के शिकार हुए और ऑस्ट्रेलिया अब 45/4 था। हालाँकि, डेविड हसी ने मध्य क्रम के बल्लेबाजों (माइकल हसी सहित) के साथ अपना फॉर्म जारी रखा, 54 गेंदों में 59 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया ने अपने 20 ओवरों में 6 विकेट पर 147 रन बनाए।


इंग्लैंड का पहला विकेट सिर्फ सात रन पर गिरा जब लम्ब को डेविड हसी ने मिड ऑन पर टेट के गेंदबाजी पर उनका कैच पकड़ा। हालाँकिउसके बाद कीस्वेटर(49 में 63) ने पीटरसन (31 में 47) के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 111 रन की साझेदारी के साथ खेल को ऑस्ट्रेलिया से दूर ले गए। अपने पहले अंतरराष्ट्रीय टी20 अर्धशतक के लिए कीस्वेटर को मैन ऑफ द मैच चुना गया, जबकि पीटरसन को प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया।


इस मैच की हाइलाइट्स आप यहाँ देख सकते हैं



आईसीसी टी20 विश्व कप 2016 फाइनल इंग्लैंड बनाम वेस्ट इंडीज


2016 आईसीसी विश्व टी 20 आईसीसी विश्व टी 20 का छठा संस्करण था। यह भारत में 8 मार्च से 3 अप्रैल 2016 तक आयोजित किया गया था और भारत द्वारा आयोजित किया जाने वाला यह पहला संस्करण था। 3 अप्रैल 2016 को कोलकाता के ईडन गार्डन में खेला गया यह मुकाबला इंग्लैंड और वेस्ट इंडीज के बीच था । वेस्ट इंडीज ने आखरी ओवर में 4 विकेट से मैच जीत लिया, इस प्रकार वे दो बार आईसीसी विश्व ट्वेंटी20 जीतने वाली पहली टीम बन गए। इस मैच ने ICC वर्ल्ड T20 फ़ाइनल के लिए अब तक की सबसे अधिक उपस्थिति दर्ज की।


वेस्टइंडीज ने अच्छी शुरुआत की बद्री ने रॉय को दूसरी गेंद पर शून्य पर बोल्ड कर दिया तो वहीँ दूसरे ओवर में साथी सलामी बल्लेबाज एलेक्स हेल्स को आंद्रे रसेल ने आउट किया। बद्री की गेंद पर मॉर्गन को गेल के हांथों स्लिप पर लपका गया।


4.4 ओवर के बाद इंग्लैंड 3/23 पर था। रूट ने इंग्लैंड को 36 गेंदों में 54 रन बनाकर खेल में वापस लाने में मदद की, लेकिन वह कार्लोस ब्रैथवेट की गेंद पर पैडल स्वीप करते हुए विकेट के पीछे पकड़े गए। इसके बाद ड्वेन ब्रावो ने तीन गेंदों में दो विकेट लेकर इंग्लैंड को 110/4 से 111/7 पर ला दिया। इंग्लैंड अपनी गहरी बल्लेबाजी के चलते अपने 20 ओवरों के बाद 155/9 पर समाप्त करने में कामयाबी हासिल की।


वेस्ट इंडीज की पारी का दूसरा ओवर फेंकने के लिए रूट एक आश्चर्यजनक विकल्प के रूप में सामने आए, गेल और साथी सलामी बल्लेबाज जॉनसन चार्ल्स दोनों को तुरंत आउट करते हुए रूट ने दो विकेट झटके। डेविड विली ने तुरंत बाद में सीमन्स को तीसरे ओवर में गोल्डन डक पर एलबीडब्ल्यू आउट करते हुए वेस्ट इंडीज को 11/3 पर ला खडा किया। ब्रावो और सैमुअल्स के बीच 75 रनों की साझेदारी ने वेस्टइंडीज को खेल में बनाए रखा और उनके बाद अभी भी अंतिम चार ओवरों में 45 रन की जरूरत थी। तंज गेंदबाजी ने उन्हें अंतिम ओवर मे 19 रन पीछे छोड़ दिया, लेकिन ब्रैथवेट ने बेन स्टोक्स की पहली चार गेंदों पर लगातार चार छक्के लगाकर जीत पर मुहर लगा दी।वेस्ट इंडीज ने मैच 4 विकेट से जीत लिया।


इस मैच की हाइलाइट्स आप यहाँ देख सकते हैं:


App download animated image Get the free App now