Create

T20I में 50 के अंदर ऑल आउट होने वाली टीमें 

जब T20I में टीमें 50 के अंदर ऑल आउट हो गई
जब T20I में टीमें 50 के अंदर ऑल आउट हो गई

टी20 अंतरराष्ट्रीय की शुरुआत 2005 में हुई थी और तब से लेकर अभी तक क्रिकेट के इस फॉर्मेट में कई तरह के रिकॉर्ड बने। टी20 अंतरराष्ट्रीय में जहाँ टीमों ने अभी तक 24 बार 240 या उससे ऊपर का स्कोर बनाया है, वहीं 292 बार टीमें 20 ओवर में 100 का आंकड़ा नहीं छू पाई। टी20 अंतरराष्ट्रीय में सबसे बड़े स्कोर का रिकॉर्ड अफगानिस्तान (278/3) और चेक रिपब्लिक (278/4) के नाम है।

अगर बात छोटे स्कोर की करें तो इस मामले में विश्व रिकॉर्ड तुर्की के नाम है। टी20 अंतरराष्ट्रीय में टीमें 50 से कम के स्कोर पर 19 बार ऑल आउट हो चुकी हैं।

आइये नज़र डालते हैं ऐसे मौकों पर जब टी20 अंतरराष्ट्रीय में टीमें 50 से कम से स्कोर पर ऑल आउट हो गई:

इंग्लैंड के खिलाफ वेस्टइंडीज की टीम सिर्फ 45 रनों पर ढेर हो गई थी
इंग्लैंड के खिलाफ वेस्टइंडीज की टीम सिर्फ 45 रनों पर ढेर हो गई थी

कैमरून (48 vs केन्या, 2022)

एसीए अफ्रीका टी20 कप में कैमरून की टीम केन्या के खिलाफ 14.2 ओवर में सिर्फ 48 रन बनाकर ढेर हो गई, जिसके जवाब में केन्या ने 3.2 ओवर में ही एक विकेट खोकर जीत हासिल कर ली और 9 विकेट से एकतरफा जीत हासिल की।

बुल्गारिया (48 vs ऑस्ट्रिया, 2022)

30 जुलाई 2022 को बुल्गारिया की टीम ऑस्ट्रिया के खिलाफ 48 के स्कोर पर ऑल आउट हो गई। फ़िनलैंड में खेले गए आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप क्वालीफ़ायर मैच में ऑस्ट्रिया के 206/4 के जवाब में बुल्गारिया 11.3 ओवर में ही सिमट गई और 158 रनों से मुकाबला गंवाया।

तुर्की (48 vs सायप्रस, 2022)

16 जुलाई 2022 को फ़िनलैंड में खेले गए आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप क्वालीफ़ायर मैच में सायप्रस के 183/8 के जवाब में तुर्की की टीम 13.3 ओवर में सिर्फ 48 रनों पर ढेर हो गई और 135 रनों से मैच गंवाया।

बोत्सवाना (46 vs नामीबिया, 2019)

22 मई 2019 को कम्पाला में आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप अफ्रीका रीजन फाइनल के आठवें मैच में नामीबिया के खिलाफ बोत्सवाना की टीम सिर्फ 12.1 ओवर में सिर्फ 46 रन बनाकर ऑल आउट हो गई थी। जवाब में नामीबिया ने बिना विकेट गँवाए 3.5 ओवर में ही जीत हासिल कर ली थी।

वेस्टइंडीज (45 vs इंग्लैंड, 2019)

8 मार्च 2019 को इंग्लैंड के खिलाफ बेसेटेर में खेले गए दूसरे टी20 में वेस्टइंडीज की टीम 11.5 ओवर में सिर्फ 45 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 182/6 का स्कोर बनाया था और उन्होंने 137 रनों से एकतरफा जीत हासिल की। रनों के लिहाज से यह वेस्टइंडीज की दूसरी सबसे बड़ी हार थी।

नीदरलैंड्स (44 vs श्रीलंका, 2021)

22 अक्टूबर, 2021 को टी20 वर्ल्ड कप के पहले राउंड के ग्रुप ए के मैच में श्रीलंका के खिलाफ नीदरलैंड्स की टीम 10 ओवर में सिर्फ 44 रन बनाकर ढेर हो गई। श्रीलंकाई टीम ने 7.1 ओवर में सिर्फ दो विकेट खोकर जीत हासिल कर ली।

ग्रीस (43 vs स्वीडन, 2022)

18 जुलाई 2022 को फ़िनलैंड में खेले गए आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप क्वालीफ़ायर मैच में स्वीडन के 150/6 के जवाब में ग्रीस की टीम 11.5 ओवर में सिर्फ 43 रनों पर ढेर हो गई और 107 रनों से मैच गंवाया।

माल्टा (40 vs बेल्जियम, 2022)

12 जून 2022 को वॉटरलू में खेले गए मैच में मेजबान बेल्जियम के 162 रनों के जवाब में माल्टा की टीम 13.3 ओवर में सिर्फ 40 रन बनाकर ढेर हो गई और 122 रनों से मुकाबला गंवाया।

नीदरलैंड्स (39 vs श्रीलंका, 2014)

24 मार्च 2014 को वर्ल्ड टी20 में ग्रुप 1 के मैच में श्रीलंका के खिलाफ नीदरलैंड्स की टीम 10.3 ओवर में सिर्फ 39 रन बनाकर ऑल आउट हो गई थी। यह उस समय टी20 अंतरराष्ट्रीय का सबसे छोटा स्कोर था और लगभग 5 सालों तक यह रिकॉर्ड डच टीम के नाम ही रहा। श्रीलंका ने 5 ओवर में एक विकेट खोकर जीत हासिल कर ली।

कैमरून (38 vs मोजांबिक, 2021)

टी20 वर्ल्ड कप अफ्रीका क्वालीफ़ायर में कैमरून की टीम मोजांबिक के खिलाफ 210 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 10.1 ओवर में सिर्फ 38 रन बनाकर ढेर हो गई और उन्हें 171 रनों की करारी हार का सामना करना पड़ा था। मोजांबिक के फ्रैंसिस्को कुआना (104 एवं 5/19) ने एक ही मैच में शतक और 5 विकेट का रिकॉर्ड बनाया था।

तुर्की के नाम टी 20 अंतरराष्ट्रीय के चार सबसे छोटे स्कोर में से तीन दर्ज हैं
तुर्की के नाम टी 20 अंतरराष्ट्रीय के चार सबसे छोटे स्कोर में से तीन दर्ज हैं

हांगकांग (38 vs पाकिस्तान, 2022)

एशिया कप 2022 में 2 सितम्बर को शारजाह में पाकिस्तान के 193/2 के जवाब में हांगकांग की टीम 10.4 में ही सिर्फ 38 रनों पर ढेर हो गई। पाकिस्तान ने 155 रनों से रिकॉर्ड जीत दर्ज की।

पनामा (37 vs कनाडा, 2021)

टी20 वर्ल्ड कप अमेरिकाज क्वालीफ़ायर में 246 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए पनामा की टीम 17.2 ओवर में सिर्फ 37 रन बनाकर ऑल आउट हो गई और उन्हें 208 रनों से करारी हार का सामना करना पड़ा था। रनों के लिहाज़ से यह टी20 अंतरराष्ट्रीय में दूसरी सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड है।

फिलीपींस (36 vs ओमान, 2022)

ओमान में खेले गए टी20 वर्ल्ड कप क्वालीफ़ायर के एक मैच में फिलीपींस की टीम ओमान के खिलाफ 15.2 ओवर में सिर्फ 36 रन बनाकर ढेर हो गई। जवाब में ओमान ने 2.5 ओवर में ही सिर्फ एक विकेट खोकर जीत हासिल कर ली। बची हुई गेंद (103 गेंद) के हिसाब से यह टी20 अंतरराष्ट्रीय की दूसरी सबसे बड़ी जीत है।

फ़िनलैंड (33 vs डेनमार्क, 2022)

7 मई 2022 को ब्रॉन्डबाई में मेजबान डेनमार्क के 170/5 के जवाब में फ़िनलैंड की टीम 13 ओवर में मात्र 33 रनों पर सिमट गई और 137 रनों से मैच गंवाया।

तुर्की (32 vs ऑस्ट्रिया, 2019)

31 अगस्त 2019 को इलफोव काउंटी में ऑस्ट्रिया के खिलाफ तुर्की की टीम 8.5 ओवर में ही सिर्फ 32 रन बनाकर ऑल आउट हो गई थी। गेंद (53) के हिसाब से यह टी20 अंतरराष्ट्रीय की दूसरी सबसे छोटी पारी है। ऑस्ट्रिया ने जवाब में सिर्फ 2.4 ओवर में बिना विकेट खोये जीत हासिल कर ली और बची हुई गेंद (104) के हिसाब से उन्होंने टी20 अंतरराष्ट्रीय में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बनाया।

थाईलैंड (30 vs मलेशिया, 2022)

4 जुलाई 2022 को चार देशों की टी20 सीरीज के मुकाबले में मेजबान मलेशिया के खिलाफ थाईलैंड की टीम 13.1 ओवर में ही 30 रनों पर ढेर हो गई। जवाब में मलेशिया ने 3.5 ओवर में ही एक विकेट खोकर जीत हासिल कर ली।

तुर्की (28 vs लक्जेमबर्ग, 2019)

29 अगस्त 2019 को इलफोव काउंटी में ही लक्जेमबर्ग के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए तुर्की की टीम 11.3 ओवर में सिर्फ 28 रन बनाकर ऑल आउट हो गई थी। यह टी20 अंतरराष्ट्रीय का दूसरा सबसे छोटा स्कोर है। लक्जेमबर्ग की टीम ने 3.1 ओवर में ही 101 गेंद शेष रहते आठ विकेट से जीत हासिल कर ली।

लेसोथो (26 vs यूगांडा, 2021)

19 अक्टूबर 2021 को आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप अफ्रीका रीजन क्वालीफ़ायर के एक मैच में लेसोथो की टीम यूगांडा के खिलाफ 12.4 ओवर में सिर्फ 26 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। यूगांडा के दिनेश नाकरानी (6/7) ने सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी के वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी की और यूगांडा ने 3.4 ओवर में 98 गेंद शेष रहते बिना विकेट खोये एकतरफा जीत हासिल कर ली।

तुर्की (21 vs चेक रिपब्लिक, 2019)

30 अगस्त 2019 को इलफोव काउंटी में चेक रिपब्लिक के खिलाफ तुर्की की टीम सिर्फ 21 रन बनाकर ऑल आउट हो गई थी। चेक रिपब्लिक के रिकॉर्ड 278/4 के जवाब में तुर्की की टीम टी20 अंतरराष्ट्रीय के सबसे कम स्कोर पर आउट हुई। उनकी पारी सिर्फ 8.3 ओवर चली और यह गेंद (51) के हिसाब से भी सबसे छोटी टी20 पारी है। चेक रिपब्लिक ने 257 रनों के विश्व रिकॉर्ड अंतर से एकतरफा जीत हासिल की।

नोट - 16 जुलाई 2022 को फ़िनलैंड में खेले गए आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप क्वालीफ़ायर मैच में इटली के 210/5 के जवाब में क्रोएशिया की टीम ने 20 ओवर में 44/7 का स्कोर बनाया। हालाँकि ऑल आउट नहीं होने की वजह से उन्हें रिकॉर्ड लिस्ट में नहीं रखा गया है।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment