तन्मय श्रीवास्तव ने लिया क्रिकेट से संन्यास, वजह भी बताई

तन्मय श्रीवास्तव
तन्मय श्रीवास्तव

विराट कोहली को कप्तानी में भारत को अंडर 19 विश्वकप जिताने वाले तन्मय श्रीवास्तव ने क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया। तन्मय श्रीवास्तव ने 2008 के अंडर 19 विश्वकप में बेहतरीन बल्लेबाजी की थी। उस समय टीम के कप्तान विराट कोहली थे। तन्मय श्रीवास्तव की उम्र अभी 30 साल है और संन्यास लेने के बारे में उन्होंने ट्विटर पर बताया है।

तन्मय श्रीवास्तव ने लिखा कि यह मेरे क्रिकेटिंग करियर को अलविदा कहने का समय है। मैंने काफी दोस्त बनाए, जितना प्राप्त कर सकता था वह किया। जूनियर क्रिकेट, रणजी ट्रॉफी और सबसे अहम अंडर 19 वर्ल्ड कप में अच्छा प्रदर्शन किया। टीम के लिए कप भी घर लेकर आया।

तन्मय श्रीवास्तव ने संन्यास कारण बताया

तन्मय श्रीवास्तव ने ट्विटर पर एक लम्बा नोट लिखा और संन्यास का कारण बताते हुए कहा कि मैं अपने जूते टांगकर घरेलू क्रिकेट के सभी प्रारूप से संन्यास की घोषणा करता हूँ। मैं सिर्फ अपनी कम्पनी ONGC के लिए खेलूँगा। क्रिकेट ने मुझे काफी कुछ दिया है। मुझे इससे जीवन में शानदार सीख और महान मेंटर, टीममेट्स और फेंड्स दिए हैं।

आगे उन्होंने कहा कि मैदान से बाहर और अंदर मेरी कई यादें हैं। मेरे पिता जब मुझे पहली बार स्टेडियम लेकर गए उसके बाद कई बार चोटिल हुआ और खेल नहीं पाया। उन्होंने कहा कि जब आप गिरना फेस करोगे तो इस तरह की कई यादें हमेशा रहेगी। इनसे तुम्हे कमजोर नहीं बनना है बल्कि मजबूत बनकर वापस आने का उद्देश्य होना चाहिए।

गौरतलब है कि 2008 के अंडर 19 वर्ल्ड कप में श्रीवास्तव ने 6 मैचों में 262 रन बनाए थे, इनमें फाइनल में खेली गई 46 रनों की पारी भी शामिल है। भारत ने वह मैच डकवर्थ लुईस नियम से जीता था। इसके बाद आईपीएल में वह किंग्स इलेवन पंजाब से खेले। इसके बाद 2008-09 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट के दौरान वह सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बने, उस समय वह उतर प्रदेश के लिए खेले थे। श्रीवास्तव ने 90 प्रथम श्रेणी मैचों में 4918 रन बनाए। जिनमें 10 शतक और 27 अर्धशतक शामिल रहे। लिस्ट ए क्रिकेट में उन्होंने 44 मैचों में 1728 रन बनाए। इनमें दस अर्धशतकीय पारियां शामिल थी।

App download animated image Get the free App now