Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

वर्ल्ड कप: 10 ऐसे शानदार प्रदर्शन जिसके बावजूद भी टीम को हार का सामना करना पड़ा

ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
1.86K   //    24 May 2019, 12:10 IST

Enter caption

साल 1975 से लेकर अब तक क्रिकेट वर्ल्ड कप के 11 संस्करण खेले जा चुके हैं। इन संस्करणों में हमें कई शानदार प्रदर्शन देखने को मिले हैं। शानदार प्रदर्शन के कारण अधिकांश बार जीत ही हासिल हुई है। जैसे महेंद्र सिंह धोनी ने साल 2011 वर्ल्ड कप के फाइनल में नाबाद 91 रनों की शानदार पारी खेलकर 28 साल बाद भारत को वर्ल्ड कप खिताब दिलाया था।

हालाँकि, कुछ प्रदर्शन ऐसे रहे हैं जो यादगार तो रहे हैं, लेकिन उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा है। आज हम ऐसे 10 प्रदर्शनों पर एक नज़र डालेंगे जहाँ व्यक्तिगत खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन के बावजूद भी टीम को हार का सामना पड़ा।

#10. लांस क्लूजनर- 31(16) vs ऑस्ट्रेलिया, बर्मिंघम (1999):

Enter caption

वर्ल्ड कप 1999 का सेमीफाइनल मैच ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेला गया। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 213 रनों पर ऑलआउट हो गई। जवाब में उतरी दक्षिण अफ्रीका की टीम 175 रनों पर 6 विकेट खो चुकी थी। इसके बाद लांस क्लूजनर शॉन पोलक का साथ देने क्रीज पर आए। उन्होंने 16 गेंदों पर 31 रन की तेज पारी खेली। लेकिन अंतिम गेंद पर एक रन लेने के चक्कर मे एलन डॉनाल्ड रन आउट हो गए और मैच बराबरी पर समाप्त हुआ। इसके बाद अच्छे रनरेट के कारण ऑस्ट्रेलिया टीम फाइनल में पहुंची

#9. क्रिस हैरिस- 130 vs ऑस्ट्रेलिया, चेन्नई (1996):

Enter caption

वर्ल्ड कप 1996 का चौथा क्वार्टर फाइनल न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच चेन्नई में खेला गया। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड ने 286 रन बनाए। जिसमें क्रिस हैरिस ने 130 रनों की शानदार पारी खेली थी जबकि कप्तान ली जर्मन ने 89 रन बनाए थे। जवाब में उतरी ऑस्ट्रेलिया टीम ने माइकल वॉ की शतकीय पारी की बदौलत 47.5 ओवरों में ही जीत हासिल कर लिया। माइकल वॉ की शतकीय पारी क्रिस हैरिस के शतक के ऊपर भारी पड़ गई और न्यूजीलैंड को हार का सामना करना पड़ा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।



1 / 5 NEXT
Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...