Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

2 मौके जब भारतीय टीम ने टेस्ट मैच की चौथी पारी में 300 से ज्यादा रनों के लक्ष्य का पीछा किया

भारतीय टीम जीत हासिल करने के बाद
भारतीय टीम जीत हासिल करने के बाद
SENIOR ANALYST
Modified 18 Jan 2021
टॉप 5 / टॉप 10
Advertisement

भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच ब्रिस्बेन में चौथा टेस्ट मैच खेला जा रहा है। ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारत के सामने चौथी पारी में जीत के लिए 328 नों का लक्ष्य रखा है। ब्रिस्बेन के मैदान में इतने ज्यादा रन बनाकर किसी भी टीम ने जीत हासिल नहीं की है। वहीं ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पिछले 32 साल से एक भी मुकाबला इस मैदान पर नहीं हारा है। ऐसे में यहां पर चौथी पारी में 300 से ज्यादा रन बनाना बिल्कुल भी आसान काम नहीं है।

हालांकि भारतीय टीम ने इस टेस्ट सीरीज में जिस तरह से मुश्किल परिस्थितियों में शानदार वापसी की है, उसे देखते हुए कोई भी लक्ष्य असंभव नहीं है। सिडनी टेस्ट मैच में एक वक्त भारतीय टीम 400 रन बनाकर जीत हासिल करने की स्थिति में थी। ऐसे में हम कह सकते हैं कि भारत के पास इस लक्ष्य को हासिल करने की क्षमता है। हालांकि ये पिच काफी अलग है और ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज काफी खतरनाक साबित हो सकते हैं।

ये भी पढ़ें: टेस्ट क्रिकेट में भारत की तरफ से 7वें विकेट के लिए 3 सबसे बड़ी साझेदारियां

300 से ज्यादा रनों के लक्ष्य को देखकर आपके मन में भी सवाल उठ रहे होंगे कि भारत ने टेस्ट क्रिकेट की चौथी पारी में क्या कभी इतने रनों के लक्ष्य का पीछा किया है ? तो इसका जवाब है हां और ऐसा दो बार हो चुका है। हम आपको इस आर्टिकल में बताते हैं कि किस-किस टीम के खिलाफ और कब-कब भारतीय टीम ने ये कारनामा किया।

2 मौके जब भारतीय टीम ने टेस्ट मैच की चौथी पारी में 300 से ज्यादा रनों के लक्ष्य का पीछा किया

2.इंग्लैंड के खिलाफ 2008 में 387 रन के लक्ष्य का पीछा

वीरेंदर सहवाग बैटिंग करते हुए
वीरेंदर सहवाग बैटिंग करते हुए

भारत और इंग्लैंड के बीच ये मुकाबला चेन्नई में खेला गया था। इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए 316 रन बनाए थे। जवाब में भारत की टीम अपनी पहली पारी में सिर्फ 241 रनों पर सिमट गई थी। दूसरी पारी में भी इंग्लैंड ने जबरदस्त बल्लेबाजी की। एंड्रयु स्ट्रॉस और पॉल कॉलिंगवुड ने जबरदस्त शतकीय पारी खेली और इंग्लैंड ने भारत के सामने 387 रनों का विशाल लक्ष्य रखा।

लक्ष्य का पीछा करते हुए सचिन तेंदुलकर ने भारत के लिए शानदार शतक लगाया। वहीं वीरेंदर सहवाग ने सिर्फ 68 गेंद पर 83 और गौतम गंभीर ने 66 रन बनाए थे। इसके अलावा युवराज सिंह 85 रन बनाकर नाबाद रहे थे और भारतीय टीम ने इस लक्ष्य को सिर्फ 4 ही विकेट खोकर हासिल कर लिया था।

ये भी पढ़ें: श्रीलंका के पूर्व खिलाड़ी ने बताया कि राहुल द्रविड़ ने उनसे वॉशिंगटन सुंदर के बारे में क्या कहा था ?

1 / 2 NEXT
Published 18 Jan 2021, 12:48 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now