विदर्भ के तेज गेंदबाज आदित्य ठाकरे को आईपीएल में आरसीबी का नेट गेंदबाज चुना गया

Nitesh
आदित्य ठाकरे
आदित्य ठाकरे

विदर्भ के तेज गेंदबाज आदित्य ठाकरे को आईपीएल में आरसीबी का नेट गेंदबाज चुना गया है। आदित्य ठाकरे आरसीबी टीम के साथ यूएई जाएंगे और आईपीएल शुरु होने तक वहीं रहेंगे। वो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बल्लेबाजों को नेट प्रैक्टिस करवाएंगे।

विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन के एक सूत्र ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा, 'बीसीसीआई द्वारा जारी स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर के मुताबिक आदित्य ठाकरे का कोरोना टेस्ट हो रहा है। आरसीबी की टीम में आदित्य को देखकर काफी अच्छा लग रहा है। अगर वो नेट्स में सपोर्ट स्टाफ और कप्तान विराट कोहली को प्रभावित करने में सफल रहते हैं तो क्या पता कि कल को क्या हो जाए।'

आदित्य ठाकरे को विदर्भ के कोच चंद्रकांत पंडित ने 2017 में दिल्ली के खिलाफ रणजी ट्रॉफी फाइनल के लिए चुना था। उन्होंने गेंदबाजी की शुरुआत की थी और दो विकेट भी चटकाए थे। इन दो विकेटों में नीतीश राणा का भी एक विकेट था। विदर्भ ने उस मुकाबले में दिल्ली को हराकर पहली बार रणजी ट्रॉफी का खिताब जीता था।

ये भी पढ़ें: रविंद्र जडेजा चेन्नई सुपर किंग्स के प्री कंडीशनिंग कैंप में नहीं लेंगे हिस्सा

इसके बाद से आदित्य ठाकरे लगातार बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। पिछले सीजन कर्नल सीके नायडू ट्रॉफी में राजस्थान अंडर-23 टीम के खिलाफ उन्होंने 12 विकेट चटकाए थे। इसके बाद अगले मैच में पंजाब के खिलाफ 7 विकेट लिया।

आदित्य ठाकरे को इस मौके का पूरा फायदा उठाना चाहिए - चंद्रकांत पंडित

आदित्य ठाकरे के बारे में बात करते हुए विदर्भ के पूर्व कोच चंद्रकांत पंडित ने कहा,' दिल्ली के खिलाफ रणजी ट्रॉफी फाइनल के बाद ये उसके लिए दूसरा बड़ा मौका है। उसे इस मौके का पूरा फायदा उठाना चाहिए और आरसीबी की टीम में अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों से जितना हो सके सीखने का प्रयास करना चाहिए। उसे केवल टी20 खेलने के बारे में नहीं सोचना चाहिए। उसे खेल के अन्य पहलुओं पर भी काम करना चाहिए। उम्मीद है कि आदित्य को इससे काफी कुछ सीखने का मौका मिलेगा।

आपको बता दें कि बायो सिक्योर प्रोटोकॉल की वजह से इस बार भारतीय युवा गेंदबाजों को ही नेट बॉलर के तौर पर आईपीएल के लिए दुबई ले जाया जा रहा है। आमतौर पर स्थानीय गेंदबाज नेट बॉलर के तौर पर यूज किए जाते हैं लेकिन इस साल सभी टीमें बायो सिक्योर बबल में रहेंगी। इस प्रोटोकाल का पालन करने के लिए सभी फ्रेंचाइजी अपने साथ भारत से ही नेट गेंदबाज लेकर जाएंगी।

ये भी पढ़ें: किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाज करुण नायर कोरोना से हुए रिकवर

Quick Links

App download animated image Get the free App now