Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

IPL 2020: फैंटेसी एप प्रमोट करने के लिए विराट कोहली और सौरव गांगुली को मद्रास हाईकोर्ट का नोटिस

गांगुली-कोहली
गांगुली-कोहली
ANALYST
Modified 03 Nov 2020, 16:26 IST
न्यूज़
Advertisement

विराट कोहली (Virat Kohli) और सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को ऑनलाइन फैंटेसी एप्स का प्रचार करने के कारण मद्रास हाई कोर्ट की मदुरई ब्रांच ने नोटिस जारी किया है। विराट कोहली और सौरव गांगुली को इस पर जवाब देना होगा। उनके अलावा कुछ अभिनेताओं को भी नोटिस मिला है। जस्टिस एन किरुबकरान और बी पुग्लेनिधि ने इस मामले पर विराट कोहली और सौरव गांगुली को नोटिस जारी किये।

मोहम्मद रिजवी नामक एक एडवोकेट ने एक याचिका लगाई जिसमें कहा गया कि इन ऑनलाइन एप्स में पैसा हारने के बाद कुछ लोगों ने आत्महत्या कर ली। बेंच ने कहा है कि ये एप्स आईपीएल की चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स जैसी टीमों के नाम से है, क्या ये एप्स भी राज्यों के नाम से हैं? क्या ये टीमें राज्यों की तरफ से खेलती हैं? बेंच ने इन एप्स के मालिकों पर करोड़ों रुपयों के लिए सेलिब्रिटीज को इस्तेमाल करने का आरोप भी लगाया।

विराट कोहली के खिलाफ पहले भी हुई याचिका दायर

यह पहली बार नहीं है जब विराट कोहली के खिलाफ इस तरह का मामला दर्ज किया गया है। अगस्त में चेन्नई के एक वकील ने इसी तरह का मामला दायर किया था। उस समय ऑनलाइन जुआ प्रमोट करने पर प्रतिबंध लगाने की मांग की और मशहूर हस्तियों की गिरफ्तारी के लिए भी निवेदन किया गया। वकील द्वारा याचिका में कहा गया है कि जुए की लत समाज के लिए अधिक खतरनाक है और यह भारतीय संविधान के अनुच्छेद 21 का उल्लंघन है, क्योंकि यह जीवन के अधिकार का उल्लंघन करता है।

विराट कोहली
विराट कोहली

गौरतलब है कि सौरव गांगुली और विराट कोहली को कुछ फैंटेसी एप्स में टीम बनाने के बारे में बताते और उसका प्रमोशन करते हुए देखा जाता है। टीवी पर इस तरह के विज्ञापन मैच के दौरान चलते हैं। कोर्ट ने इनको नोटिस का जवाब 19 नवम्बर तक देने के लिए कहा है।

Published 03 Nov 2020, 16:26 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit