वीरेंदर सहवाग ने रामायण के पात्र अंगद को लेकर प्रतिक्रिया दी, उन्हीं से बल्लेबाजी की प्रेरणा ली!

वीरेंद्र सहवाग
वीरेंद्र सहवाग

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते थे। टीम इंडिया के लिए टेस्ट मुकाबले में दो तिहरे शतक जड़ने वाले सहवाग की गिनती उन बल्लेबाजों में की जाती थी, जो क्रीज पर सेट होने के बाद गेंदबाजों की जमकर क्लास लगाते थे। कोई भी गेंदबाज उन्हें क्रीज से हिला नहीं पाता था। वहीं अब सहवाग ने बताया है कि वो रामायण के किरदार अंगद उनकी बल्लेबाजी की प्रेरणा हैं।

सहवाग ने रविवार को अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से रामायण की दो तस्वीरें शेयर की थी, जिसका कैप्शन उन्होंने लिखा, 'जहां से मैंने अपनी बल्लेबाजी की प्रेरणा ली। पैर हिलाना मुश्किल ही नहीं, नामुमकिन है। अंगद जी रॉक्स।' सहवाग ने जो तस्वीरे शेयर की थी, वो उस सीन की है जब भगवान श्रीराम अंगद को शांति दूत बनाकर लंका भेजते हैं, लेकिन रावण युद्ध संधि के लिए मना करता है। ऐसे में अंगद पूरी सभा को चुनौती देते हैं जो कोई भी राक्षस मेरे पैर को हिला देगा तो श्रीराम की हार मान ली जाएगी, लेकिन कोई भी राक्षस उनका पैर नहीं हिला पाता है।

ये भी पढ़ें - आईपीएल रद्द होने पर इन 3 बल्लेबाजों की अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी होगी काफी मुश्किल

गौरतलब, है कि कोरोना वायरस के बढ़ते असर को देखते हुए पीएम मोदी ने 21 दिनों के लॉक डाउन का ऐलान किया हुआ है। ऐसे में लोग अपने घरों में बंद है। लॉक डाउन के ऐलान के बाद भारत सरकार ने लोगों के मनोरंजन के लिए रामायण का प्रसारण दोबारा से शुरू करने का ऐलान किया था।

बता दें, सहवाग ने टीम इंडिया के लिए 104 टेस्ट मैचों की 180 पारियों में 49।3 की औसत से 8586 रन बनाए हैं जबकि 251 वनडे में उन्होंने 35।0 की औसत से 8273 रन बनाए हैं। टेस्ट मैचों में जहां सहवाग ने 23 शतक लगाए हैं वहीं वनडे में उनके बल्ले से 15 शतक आए है। सहवाग उन बल्लेबाजों में से एक हैं जिन्होंने वनडे में दोहरा शतक जड़ा है।

Quick Links

App download animated image Get the free App now