"लिमिटेड ओवर्स और टेस्ट टीम का कप्तान अलग-अलग रखना भारतीय टीम के लिए सही नहीं होगा"

विराट कोहली और रोहित शर्मा
विराट कोहली और रोहित शर्मा

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व खिलाड़ी वीवीएस लक्ष्मण (Vvs Laxman) ने हर फॉर्मेट के लिए अलग-अलग कप्तान बनाने को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि इस मामले में इंग्लैंड की टीम भले ही सफल रही हो लेकिन भारतीय टीम के लिए ये सही नहीं रहेगा।

दरअसल कई लोगों का मानना है कि रोहित शर्मा को लिमिटेड ओवर्स का कप्तान बना दिया जाए, क्योंकि मुंबई इंडियंस के कप्तान के तौर पर उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। हालांकि वीवीएस लक्ष्मण इससे इत्तेफाक नहीं रखते हैं।

ये भी पढ़ें: इशान किशन ने बताया कि अर्धशतक बनाने के बाद विराट कोहली ने उनसे क्या मजेदार बात कही थी

वीवीएस लक्ष्मण ने बताया कि क्यों दो कप्तान रखना सही नहीं होगा

न्यूज 18 के साथ एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में वीवीएस लक्ष्मण ने कप्तानी बांटने की चर्चा को लेकर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि वीवीएस लक्ष्मण तीनों ही फॉर्मेट के लिए परफेक्ट कप्तान हैं।

मेरा हमेशा मानना रहा है कि अगर कप्तान के ऊपर कप्तानी का दबाव नहीं है और उसे अपनी जिम्मेदारी पसंद है तो फिर उसे कप्तानी से नहीं हटाना चाहिए। विराट कोहली को भी जिम्मेदारी पसंद है और इसी वजह से तीनों फॉर्मेट के लिए उन्हें ही कप्तान होना चाहिए।

इंग्लैंड टीम की अगर बात करें तो वहां पर दो कप्तान हैं। जो रूट टेस्ट क्रिकेट में टीम के कप्तान हैं तो वहीं इयोन मोर्गन के ऊपर वनडे और टी20 की जिम्मेदारी है। वहीं इंग्लैंड की टीम बेहतरीन प्रदर्शन भी कर रही है। हालांकि वीवीएस लक्ष्मण का मानना है कि इंग्लैंड के टीम की बनावट ऐसी है कि वो दो कप्तान रख सकते हैं लेकिन भारतीय टीम के साथ ऐसा नहीं है।

इंग्लैंड में दो कप्तान चल सकते हैं क्योंकि जो रूट व्हाइट बॉल क्रिकेट में नियमित तौर पर नहीं खेलते हैं, या फिर इयोन मोर्गन टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलते हैं। अगर कोई कप्तान तीनों ही फॉर्मेट में खेलता है और जबरदस्त प्रदर्शन करता है तो फिर उसे ही तीनों प्रारूपों में कप्तान होना चाहिए।

ये भी पढ़ें: इयोन मोर्गन ने इशान किशन की धुआंधार पारी को लेकर दी बड़ी प्रतिक्रिया, IPL का किया जिक्र

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता