WIvSL: दिनेश चांडीमल की अपील हुई ख़ारिज, सुरंगा लकमल तीसरे टेस्ट में श्रीलंका के कप्तान होंगे

बॉल टैम्परिंग मामले में एक मैच के प्रतिबन्ध के खिलाफ श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांडीमल की अपील ठुकरा दी गई है। आईसीसी द्वारा गठित ज्युडिशियल आयोग ने उनकी अपील को ख़ारिज कर दिया है। श्रीलंका के कप्तान बारबडोस में होने वाले डे-नाइट टेस्ट मैच में शिकरत नहीं कर पाएंगे। सुरंगा लकमल अंतिम टेस्ट में श्रीलंका की कप्तानी करेंगे। श्रीलंका के कप्तान को बॉल से छेड़छाड़ के आरोप में दोषी मानते हुए 2 डीमेरिट अंक देने के साथ ही एक मैच के लिए प्रतिबंधित किया गया था। जवागल श्रीनाथ ने यह फैसला सुनाया था, इसके खिलाफ चांडीमल ने अपील करते हुए खुद को दोषी मानने से इंकार कर दिया था। इसके अलावा कोच और टीम मैनेजर ने भी खेल भावना के विपरीत जाकर वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन का खेल 2 घंटे तक रोक दिया था। उन्होंने इसके लिए अपनी गलती स्वीकार भी कर ली है। एक मैच का प्रतिबन्ध लगाने के अलावा दिनेश चांडीमल पर सौ फीसदी मैच फीस का जुर्माना भी लगाया गया है। आईसीसी आचार संहिता आयोग के चैयरमैन माइकल बेलोफ़ ने शुक्रवार को श्रीलंकाई कप्तान की अपील पर तकरीबन 4 घंटे तक सुनवाई की। इस दौरान अपने वकीलों के साथ दोनों तरफ के लोग मौजूद रहे। अंत में बेलोफ़ ने अपना फैसला सुनाते हुए श्रीलंका की दलीलों को ख़ारिज करते हुए एक मैच का बैन बरकरार रखा। माना जा रहा था कि श्रीलंका को आईसीसी से राहत मिलेगी लेकिन ऐसा नहीं हो सका और उन्हें दोषी करार देकर कप्तान को कोई छूट नहीं दी क्योंकि वीडियो फूटेज उनके सामने थे। तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मैच में मेजबान टीम ने जीत दर्ज कर सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई थी। इसके बाद दूसरा टेस्ट मैच ड्रॉ रहा। तीसरा मुकाबला 24 जून से बारबडोस में खेला जाएगा। रंगना हेराथ जैसे अनुभवी खिलाड़ी पर सुरंगा लकमल को तरजीह देते हुए श्रीलंका टीम मैनेजमेंट ने कप्तानी की जिम्मेदारी दी है।

Edited by Staff Editor