Create
Notifications

"आप दिनेश कार्तिक से ओपन क्यों नहीं कराते"- सूर्यकुमार यादव से ओपनिंग कराने को लेकर आया चौंकाने वाला बयान

आकाश चोपड़ा ने सूर्यकुमार यादव से ओपनिंग कराने को लेकर दी तीखी प्रतिक्रिया
आकाश चोपड़ा ने सूर्यकुमार यादव से ओपनिंग कराने को लेकर दी तीखी प्रतिक्रिया
reaction-emoji
·
Prashant Kumar

वेस्टइंडीज के खिलाफ (WI vs IND) सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) को ओपनर के तौर पर खिलाने पर कई दिग्गजों ने हैरानी जताई है। इसके अलावा टीम मैनेजमेंट और कप्तान रोहित शर्मा के फैसले की आलोचना भी हो रही है। इस क्रम में पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) का नाम भी जुड़ गया है, जिन्होंने सूर्यकुमार से ओपन कराये जाने के फैसले को लेकर भड़ास निकाली है।

चोपड़ा का मानना है कि सूर्यकुमार यादव को ओपनर के तौर पर आजमाने का कोई फायदा नहीं है। ऐसा करके टीम मैनेजमेंट उन्हें खराब कर रहा है।

बतौर ओपनर वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले दो मुकाबलों में सूर्यकुमार यादव कुछ खास छाप नहीं छोड़ पाए। पहले मुकाबले में उन्होंने 24 रनों का योगदान दिया था। वहीं दूसरे मुकाबले में वह 11 रन बनाकर चलते बने।

यूट्यूब पर स्टार स्पोर्ट्स के प्रेसेंटेटर जतिन सप्रू के साथ कोलैबोरेशन के दौरान चोपड़ा ने सवाल किया कि अलग-अलग खिलाड़ियों के लिए 'अलग-अलग नियम' क्यों हैं? उन्हें लगता है कि लचीलेपन का मतलब यह भी है कि दिनेश कार्तिक पारी की शुरुआत कर सकते हैं जबकि रोहित शर्मा भी खुद को नंबर 5 पर ढकेल सकते हैं। उन्होंने कहा,

मेरी दूसरी राय यह है कि आप दिनेश कार्तिक के साथ ओपनिंग क्यों नहीं करते? रोहित शर्मा नंबर 5 पर क्यों नहीं जाते? देखिए, यह मेरी बात है। अलग-अलग खिलाड़ियों के लिए अलग-अलग नियम क्यों?

ऐसे प्रयोगों से बल्लेबाज का आत्मविश्वास कमजोर पड़ सकता है - आकाश चोपड़ा

वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे टी20 मुकाबले से पहले चोपड़ा ने कहा कि जिस तरह के प्रयोग हो रहे हैं, उनसे बल्लेबाज का आत्मविश्वास कमजोर पड़ सकता है। पूर्व ओपनर ने कहा,

यह थोड़ा ज्यादा है [ओपनिंग की पहेली पर]। [इसका] कोई मतलब नहीं है [शीर्ष पर सूर्यकुमार यादव] क्योंकि आपने इंग्लैंड में ऋषभ पंत के साथ ओपनिंग की। सबसे अच्छी स्थिति अगले तीन मैचों में सूर्या द्वारा तीन शतक बनाने की हो सकती है। सबसे खराब स्थिति यह हो सकती है कि वह तीन मैचों में सिर्फ 30 रन बना सके। तो, बल्लेबाज पूरी टी20 सीरीज में लगभग 60 रन ही बना पायेगा। यह एकदिवसीय मैचों में खराब प्रदर्शन के बाद प्रयोग हुआ है। तो, अचानक, सारा खेल आत्मविश्वास का है। अगर आपने बल्लेबाज का विश्वास छीन लिया, तो वास्तव में आपको क्या हासिल हुआ?

आपको बता दें कि वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज में सूर्यकुमार यादव का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा था। ऐसे में टी20 में उन पर सभी की नजर थी लेकिन उन्हें ओपनर के तौर पर आजमाया जा रहा है। इस भूमिका में वे शायद खुद को ढाल नहीं पा रहे हैं। देखना होगा कि 2 अगस्त को होने वाले तीसरे टी20 मुकाबले में रोहित शर्मा के साथ पारी की शुरुआत करने का मौका किसे मिलेगा।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

comments icon1 comment

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...